नगरी के ग्राम मोदे व छिपली में मिला कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग व प्रधान आरक्षक

नगरी के छिपली मे आज एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला

1 तारीख को कोंडागांव से मोदे आये 76 वर्षिय बुजुर्ग व छिपली के मगरलोड थाने में पदस्थ 41 वर्षीय प्रधान आरक्षक पाये गये कोरोना पॉजिटिव

नगरी । (राजशेखर नायर) : नगरी से पांच किमी दूर स्थित ग्राम मोदे के एक 76 वर्षीय बुजुर्ग की कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आई है।
साथ ही नगरी से मात्र 1 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम छिपली निवासी, मगरलोड थाने में पदस्थ प्रधान ,41 वर्षीय ,प्रधान आरक्षक की भी कोरोना रिपेर्ट पॉजिटिव आई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम मोदे निवासी बुजुर्ग का परिवार 28 जून को कोंडागांव में किसी पारिवारिक शादी में शामिल होने गया था जिसमे परिवार के 11 लोग शामिल थे।

मोदे में सभी 7 सदस्यों को 2 जुलाई से 15 जुलाई तक होम आइसोलेशन में 

शादी में शामिल होने के बाद 1जुलाई को 7 लोग वापस मोदे अपने घर आये। वही 4 अन्य सदस्य धमतरी में अपने घर चले गए।
मोदे में सभी 7 सदस्यों को 2 जुलाई से 15 जुलाई तक होम आइसोलेशन में रखकर 8 जुलाई को सभी का सेम्पल लिया गया था।
इससे पहले की 15 जुलाई को होम आइसोलेशन की अवधि समाप्त होती 13 जुलाई को बुजुर्ग की कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।

कोरोना पॉजिटिव की खबर

शेष अन्य 6 सदस्य की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। बुजुर्ग के कोरोना पॉजिटिव की खबर आते ही पूरे ग्राम को कन्टेन्टमेंट एरिया घोषित कर दिया गया व परिवार की अन्य सदस्यों से संपर्क की जानकारी एकत्रित की जा रही है। दूसरे मामले में ग्राम मोदे निवासी 41 वर्षीय प्रधान आरक्षक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

ज्ञात हो की यह प्रधान आरक्षक मगरलोड थाने में पदस्थ था। सोमवार को मगरलोड थाने के 8 जवानों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसी कड़ी में आज पुनः एक और पॉजिटिव आने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

प्रधान आरक्षक के परिवार में 4 सदस्य है व पत्नी व 1 बच्ची वे धमतरी में है। फिलहाल सभी सदस्यों का टेस्ट किया जा रहा है ।
ग्राम छिपली को कन्टेन्टमेंट एरिया घोषित कर सील करने की कार्यवाही पुलिस विभाग कर रही है।

मौके पर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ एसडीओपी

नीतीश ठाकुर, थाना प्रभारी एन एस ठाकुर, पुलिस विभाग के शेखर सिन्हा, नवरत्न कश्यप, नाग सहित ग्राम की मितानिन व स्वास्थ्य कर्मी के सहयोग से मरीज को एम्स रायपुर भेजा गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button