छत्तीसगढ़

कोरोना वारियर्स तीन पुलिसकर्मी वायरस की चपेट में, थाना परिसर सील

गौरेला थाना के तीन पुलिसकर्मी कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए

पेंड्रा: लॉकडाउन खुलने के बाद से ग्रामीण और कस्बाई इलाकों में कोरोना पैर पसारता जा रहा है. प्रवासी मजदूरों के घर वापसी से जहां बीते 1 सप्ताह में तीन कोरोना पॉजिटिव पाए गए. उसके बाद अचानक किए गए टेस्ट में गौरेला थाना के तीन पुलिसकर्मी कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए.

पुलिस महकमे में भी हड़कंप

गौर करने वाली बात यह है कि अजीत जोगी के निधन के बाद मरवाही में उपचुनाव होना है. जिसके लिए दोनों राष्ट्रीय दल अपने-अपने बिसात बिछाने मंत्रियों, सांसदों और संगठन के नेताओं का लगातार दौरा कर रहे हैं. वीआईपी ड्यूटी में लगे पुलिसकर्मियों के कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस महकमे में भी हड़कंप मचा हुआ है.

वहीँ बिलासपुर के ग्रीन जोन पेंड्रा में वायरस की चपेट में कोरोना वारियर्स तीन पुलिसकर्मी आ गए है. गौरेला थाना के तीन पुलिस कर्मियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से पूरे थाना परिसर को कंटेनमेंट जोन घोषित कर सील कर दिया गया है. आगामी आदेश तक गौरेला थाने के सभी काम पेंड्रा थाने से संचालित किए जाएंगे.

पॉजिटिव निकले पुलिस कर्मियों के कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर न्यायालय में ड्यूटी होने के बाद से व्यवहार न्यायालय, अपर जिला और सत्र न्यायालय के न्यायाधीशों सहित सभी कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट हुआ है. इसके साथ ही पूरे कोर्ट परिसर को 16 जुलाई तक बंद कर दिया गया है.

सुरक्षा व्यवस्था में तैनात

संक्रमित मिले पुलिसकर्मियों में एक पुलिसकर्मी मंत्री गुरु रूद्रकुमार की सुरक्षा व्यवस्था में तैनात था, हालांकि इसकी ड्यूटी सड़क सुरक्षा में थी और यह सीधे मंत्री के कांटेक्ट में हो इसकी संभावना कम है. जबकि महिला कर्मी की ड्यूटी अमरकंटक जलेश्वर धाम में सुरक्षाकर्मी के रूप में लगी हुई थी. ऐसी स्थिति में उस महिला कर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद से कोंटेक्ट ट्रेसिंग कर पाना मुश्किल का काम हो गया है.

तीसरे पुलिसकर्मी की ड्यूटी कोर्ट परिसर में

जबकि तीसरे पुलिसकर्मी की ड्यूटी कोर्ट परिसर में लगी थी. यही वजह है कि न्यायाधीशों के साथ-साथ न्यायालय में पदस्थ सभी कर्मचारियों का भी कोरोना टेस्ट हुआ. जिसके बाद से न्यायालय में चल रही अर्जेंट हीरिंग भी बंद हो गई है. अब कोर्ट 16 जुलाई से ही शुरू होगा.

इसके अलावा गौरेला थाने का पूरा परिसर ही कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है, यहां पुलिसकर्मियों सहित उनके परिवार के लोगों की भी सैंपलिंग हो रही है. तब तक गौरेला थाना क्षेत्र का कार्य पेंड्रा से संचालित होगा. जिसके लिए पुलिस अधीक्षक सूरज सिंह परिहार ने आदेश भी जारी कर दिया है.

वहीं कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से पुलिस प्रशासन भी अलर्ट मोड पर आ गया है. एहतियातन कदम उठाने के साथ-साथ मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर कार्रवाई करने की बात कहीं है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button