प्रदेश में कोरोना का कहर बदस्तूर जारी, आज के आंकड़ों ने डराया

11 मरीजों की मौत

भोपाल। आज मध्यप्रदेश में 3178 नए कोरोना मरीज मिले हैं, मध्यप्रदेश में अब तक 3 लाख 6 हजार 851  मरीज मिल चुके हैं, यहां पिछले 24 घंटे में 11 मरीजों की मौत हुई है, मध्यप्रदेश में अब तक  4040   मरीजों की मौत हो चुकी हैं, आज 2201 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं, मध्यप्रदेश में अब तक 2 लाख 81 हजार 476  मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। आज पूरे मध्यप्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 21335 है। इंदौर में आज  737 , भोपाल में 737 नए कोरोना मरीज मिले हैं।

मध्यप्रदेश में लगातार सख्ती के बाद भी कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है। इंदौर,भोपाल और जबलपुर के बाद अब ग्वालियर, खरगोन,उज्जैन,रतलाम,बड़वानी में भी रोजाना संक्रमण के नए केस सामने आ रहे हैं। प्रदेश के 4 बड़े शहरों इंदौर, भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर में रविवार लॉकडाउन के बाद भी संक्रमण के मामले कम नहीं हो रहे है।

वहीं देशभर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और जारी टीकाकरण अभियान के सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की और वर्तमान स्थिति की समीक्षा की। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बैठक में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

 

रविवार को देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के 93,249 नए मामले सामने आए जो इस साल एक दिन में आए कोविड-19 के सर्वाधिक मामले हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1,24,85,509 हो गई है।

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार 19 सितंबर के बाद से कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में सामने आए ये सबसे अधिक मामले हैं। 19 सितंबर को कोविड-19 के 93,337 मामले आए थे। आंकड़ों के मुताबिक रविवार को महामारी से 513 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,64,623 हो गई है।

 

प्रधानमंत्री ने देश के कुछ हिस्सों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर बुधवार को चिंता जताई थी और इसे फिर से फैलने से रोकने के लिए ‘‘तीव्र एवं निर्णायक’’ कदम उठाने का आह्वान किया।

 

पिछले महीने प्रधानमंत्री ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों से डिजिटल माध्यम से संवाद किया था और कहा था कि अगर इस बढ़ती हुई महामारी को यहीं नहीं रोका जाएगा तो देशव्यापी संक्रमण की स्थिति बन सकती है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button