राष्ट्रीय

Coronavirus : भारत में कोविड-19 के मामले 63 लाख के पार

देश में अब कोरोना वायरस संक्रमण के 9,40,705 मरीज उपचाराधीन हैं

नई दिल्ली : भारत में कोविड-19 (Coronavirus) के 86,821 नये मामले सामने आने के बाद बृहस्पतिवार को देश में संक्रमितों की कुल संख्या 63 लाख से अधिक हो गई, जबकि 52,73,201 लोग अब तक इस महामारी से स्वस्थ हो चुके हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, मरीजों के ठीक होने की दर 83.53 फीसदी है।

आंकड़ों के अनुसार, नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 63,12,584 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटे में संक्रमण से और 1,181 लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या 98,678 हो गई है।

आँकड़ों के अनुसार, देश में अब कोरोना वायरस संक्रमण के 9,40,705 मरीज उपचाराधीन हैं, जो कुल मामलों का 14.90 प्रतिशत हैं।

कोविड-19 से मृत्यु दर घटकर 1.56 प्रतिशत रह गई है। भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख के पार, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख के पार चले गए थे। संक्रमितों की संख्या 16 सितंबर को 50 लाख से अधिक हो गयी, जबकि 28 सितंबर को कुल मामले 60 लाख से अधिक हो गए।

आईसीएमआर के अनुसार अब तक देशभर में कुल 7,56,19,781 कोविड-19 नमूनों की जांच हो चुकी है। इनमें से सिर्फ 14,23,052 नमूनों की जांच बुधवार को हुई। देश में एक दिन में मौत के 1,181 नए मामलों में से 481 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई है, जबकि कर्नाटक में 87, उत्तर प्रदेश में 69, तमिलनाडु में 67, पश्चिम बंगाल में 59, आंध्र प्रदेश में 48, पंजाब में 47, छत्तीसगढ़ और दिल्ली में 41-41 और मध्य प्रदेश में 35 लोगों की मौत हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा

देश में अब तक कुल 98,678 लोग संक्रमण के कारण मारे जा चुके हैं, जिनमें 36,662 महाराष्ट्र में, तमिलनाडु में 9,520, कर्नाटक में 8,864, आंध्र प्रदेश में 5,828, उत्तर प्रदेश में 5,784, दिल्ली में 5,361, पश्चिम बंगाल में 4,958, गुजरात में 3,540, पंजाब में 3,406 और मध्य प्रदेश में 2,316 लोगों की मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मृत्यु अन्य बीमारियों के कारण हुई।

मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा, ‘‘हमारे आंकड़ों का भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आँकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है।’’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button