छत्तीसगढ़

सामान्य सभा की बैठक को लेकर नगर पालिका में पार्षदों का हंगामा, कहा -सीएमओ ने किया दुर्व्यवहार

अरविन्द शर्मा:

कटघोरा: 2019 के नगरीय निकाय चुनाव में विजय का ताज हासिल कर जनता की समस्याओं का समाधान करने की जवाबदेही तय करने वाले जनप्रतिनिधि आज स्वयं समस्याओं से घिरे नजर आ रहे हैं।चुनाव हुए साल भर हो गये लेकिन नगर पालिका परिषद ने आमसभा की एक भी बैठक आहूत नही की है।वार्डो में बढ़ती समस्याओं को लेकर जनता ने भी अब जनप्रतिनिधियों पर तंज कसना शुरू कर दिया है मूलभूत की सुविधाएं नही मिलने से वार्डवासी भी त्रस्त हो चुके हैं। जिसको लेकर जनप्रतिनिधियों ने भी अपना आपा खो दिया और नगर पालिका में सामान्य सभी की बैठक वाली बात को लेकर नगर पालिका परिसर में जमावड़ा कर जमकर हंगामा मचा दिया।इस बीच जनप्रतिनिधियों ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी से भी दुर्व्यवहार करने में कोई कसर नही छोड़ी।कई बिंदुओं पर जानकारी की मांग को लेकर जनप्रतिनिधियों ने सीएमओ मुर्दाबाद के नारे तक लगा डाले।

नगरीय निकाय चुनाव को साल भर पूरा होने जा रहा है लेकिन इस बीच सामान्य सभा की एक भी बैठक नगर पालिका अध्यक्ष की अगुवाई में आहूत नही की गई है।बैठक नही होने से वार्डो की समस्याओं का निराकरण नही हो पा रहा है जगह जगह समस्याओं का अंबार लगा हुआ है, यहाँ तक कि वार्डो में निरंतर रूप से साफ सफाई तक नही हो रही है।स्ट्रीट लाइट भी भगवान भरोसे है जिस वजह से सड़को पर घोर अंधेरा पसरा रहता है जो कि चोरी जैसे वारदातों को अंजाम देने में कारगर सिद्ध हो रही है।जनप्रतिनिधियों की सुनवाई नही होने से नेता प्रतिपक्ष की अगुवाई में नगर पालिका पहुँचे जनप्रतिनिधियों ने अपनी मांगों को लेकर व सामान्य सभा की बैठक को लेकर नगर पालिका अधिकारी जे बी सिंह से मुलाकात की, मुलाकात के दौरान पार्षदो की कई बिंदुओं पर चर्चा होनी थी जिस पर सीएमओ साहब ने अध्यक्ष महोदय से चर्चा कर आगामी दिनों में आहूत की जाने वाली सामान्य सभा की बैठक मे सभी मांगो पर जानकारी साझा करने की बात कही,लेकिन इसी बीच एकाएक किसी बात को लेकर परिसर में मौजूद पार्षदगण सीएमओ पर हावी हो गए और माहौल पेचीदा हो गया तथा सीएमओ मुर्दाबाद के स्वर गूंजने शुरू हो गए।

अगर सही मर्तबा देखा जाए तो पार्षदो की मांगें कहि ना कहि जायज तो हैं चुनाव हुए साल भर होने को है लेकिन नगर में विकास कार्य कहि पर नजर नही आ रहे हैं नगर में सरकार की महती योजनाए भी दम तोड़ती नजर आ रही है।अब भला ऐसे मे पार्षदो की बोखलाहट तो दिखनी ही थी।वार्डवासी भी पार्षदो के कार्यो से असंतुष्ट हैं,अब भला ऐसी परिस्थितियों में पार्षद क्या करें?पार्षदो का कहना है कि हमारी किसी भी मांगो पर सुनवाई नही होती, यहाँ तक कि नगर पालिका के कर्मचारी फोन तक नही उठाते हैं।नगर पालिका के कई गैरजिम्मेदाराना कार्यो से पार्षदो में खासी नाराजगी बनी हुई है।इस बीच मजे की बात यह रही कि कुछ पार्षद नगर पालिका अध्यक्ष के कार्यो से बेहद संतुष्ट भी नजर आ रहें हैं और इस बात को आपसी मसला बता कर सुलझाने की बात कह रहे हैं। खैर मसला जो भी हो,इतना तो तय है कि आगामी सामान्य सभा की बैठक में आसार काफी घमासान हो सकते हैं।इस बैठक में पार्षद कितने संतुष्ट होंगे यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

नगर पालिका परिसर में जनप्रतिनिधियों द्वारा सीएमओ से दुर्व्यवहार करना दुर्भाग्यपूर्ण रहा।पार्षदो की जो भी समस्याएं हैं वे शालीनता से अपनी समस्याएं अवगत कराएं सभी का निराकरण किया जाएगा।शोर शराबा करने से समस्याएं नही सुलझाई जा सकती।
-श्री रतन मित्तल अध्यक्ष
नगर पालिका कटघोरा

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button