राष्ट्रीय

कांग्रेस के लिए दोहरी खुशखबरी, गुरदासपुर और केरल में शानदार जीत

बीजेपी और कांग्रेस के बीच प्रतिष्ठा का प्रश्न बनी पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ ने करीब दो लाख वोटों से बीजेपी और शिरोमणि अकाली दल गठबंधन के प्रत्याशी स्वर्ण सलारिया को हरा दिया। सुनील जाखड़ रविवार सुबह मतगणना शुरू होने के बाद से ही बढ़त बनाए हुए थे। अंतिम चरण तक दोनों उम्मीदवारों के बीच वोटों का फासला करीब 1 लाख 93 हजार पहुंच गया। आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार को तीसरे स्थान से ही संतोष करना पड़ा।

गुरुदासपुर से हारना बीजेपी के लिए बड़ा झटका है, क्योंकि ऐक्टर विनोद खन्ना की यह सीट पार्टी के लिए गढ़ मानी जाती थी। जीत के बाद सुनील जाखड़ ने इसे मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ जनता का फैसला करार दिया। उधर, केरल से भी कांग्रेस के लिए अच्छी खबर आई। राज्य की वेंगारा विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ एलडीएफ को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है। यहां कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ के उम्मीदवार केएनए खादेर ने जीत दर्ज की है।

भारी जीत से उत्साहित कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ ने कहा कि गुरदासपुर के लोगों ने मोदी जी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के नीतियों के प्रति नाखुशी जाहिर कर एक कड़ा संदेश दिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सुनील जाखड़ को बधाई देते हुए कहा कि यह पंजाब कांग्रेस की नीतियों और विकासवादी एजेंडे की जीत है।

उन्होंने कहा, ‘मैं गुरदासपुर की जनता को आश्वासन देना चाहता हूं कि उनसे किया हुआ हरेक वादा पूरा होगा। साथ ही सभी विकासकार्यों को तेजी से पूरा किया जाएगा।’ उन्होंने कहा कि गुरदासपुर उपचुनाव के नतीजे कांग्रेस के फिर से उत्थान का प्रतीक है। अब यह स्पष्ट है कि पार्टी वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले तरक्की की दिशा में बढ़ रही है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा है कि यह कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के लिए शानदार दिवाली गिफ्ट है। इस बीच जीत की घोषणा से पहले ही पंजाब कांग्रेस भवन में कांग्रेस कार्यकर्ता जश्न मनाने के लिए जुट गए। यह सीट फिल्म ऐक्टर व बीजेपी के वरिष्ठ नेता विनोद खन्ना के निधन के कारण खाली हुई थी। माना जा रहा है कि भाजपा के गढ़ में कांग्रेस की जीत से पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की स्थिति और मजबूत होगी।

बता दें, गुरदासपुर सीट पर 56 फीसदी मतदान हुआ था। कांग्रेस विधानसभा चुनाव के अपने प्रदर्शन को लोकसभा उपचुनाव में दोहराने में कामयाब रही है। कांग्रेस ने गुरदासपुर की 9 में से 7 विधानसभा सीटें जीती थीं।

केरल की वेंगारा विधानसभा सीट पर सत्तारूढ़ एलडीएफ को हार का सामना करना पड़ा है। यहां कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) ने जीत हासिल की है। यूडीएफ उम्मीदवार केएनए खादेर ने एलडीएफ प्रत्याशी को मात दी। बीजेपी के नेतृत्च वाले एनडीए उम्मीदवार को चौथे स्थान से ही संतोष करना पड़ा।

Summary
Review Date
Reviewed Item
गुरदासपुर लोकसभा सीट
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *