दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

दुर्ग।

मंदसौर रेप मामले की तर्ज पर दुर्ग न्यायलय ने भी आज एक अहम फैसला सुनाया है. दुर्ग कोर्ट ने पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म के मामले में मुख्य आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है. विशेष न्यायाधीश शुभ्रा पचैरी ने शुक्रवार की रात आठ बजे अपने विशेष न्यायालय में यह फैसला सुनाया। यही नहीं कोर्ट ने आरोपी की मां को भी पांच साल की सजा सुनाई है.

न्यायाधीश ने फैसले में प्रकरण के मुख्य आरोपी खुसीर्पार निवासी 24 वर्षीय राम सोना को हाईकोर्ट से पुष्टि होने के बाद मृत्युदंड देने का आदेश दिया है।

इस मामले में एक अन्य आरोपी अमृत सिंह 23 साल और मुख्य आरोपी की मां कुंती सोना को साक्ष्य छुपाने के आरोप में पांच-पांच साल की सजा सुनाई गई है. खुसीर्पार में दर्ज हुआ था केस.

गौरतलब है कि मुख्य आरोपी ने 25 फरवरी वर्ष 2015 में पांच साल की एक मासूम बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। मामले की पैरवी करने वाले पॉक्सो एक्ट के अधिवक्ता कमल वर्मा ने बताया कि इस जुर्म में मुख्य आरोपी की उसकी मां तथा उसके एक दोस्त ने मारने के बाद बच्ची के शव को ठिकाने लगाया था.

इस मामले में खुसीर्पार थाना में अपराध दर्ज किया गया था। घटना के बाद आरोपी फरार था। जिसे कड़ी खोजबीन के बाद गिरफ्तार किया था।

Back to top button