ऑल टाइम आईसीसी रैंकिंग में लारा से आगे निकले विराट कोहली

कोहली ने तीसरे और अंतिम टेस्ट की शुरुआत 900 अंक से की थी और इस मुकाबले से उन्होंने 54 रन और 41 रन की बदौलत 12 अंक जुटाये.

दुबई: भारतीय कप्तान और वर्ष के सर्वश्रेष्ठ आईसीसी क्रिकेटर विराट कोहली जोहानिसबर्ग टेस्ट से 12 अंक जुटाकर टेस्ट बल्लेबाजों की सर्वकालिक खिलाड़ी रैंकिंग में वेस्टइंडीज के महान खिलाड़ी ब्रायन लारा को पछाड़ने में सफल रहे.

कोहली ने तीसरे और अंतिम टेस्ट की शुरुआत 900 अंक से की थी और इस मुकाबले से उन्होंने 54 रन और 41 रन की बदौलत 12 अंक जुटाये.

इसका मतलब है कि उनके अब 912 अंक हैं और वह सर्वकालिक सूची में 26वें स्थान पर काबिज हैं जिसमें डान ब्रैडमैन 961 अंक लेकर शीर्ष पर हैं.मौजूदा नंबर एक रैंकिंग के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ 947 अंक से सर्वकालिक सूची में दूसरे स्थान पर हैं.

कोहली ने इस तरह 31वें से 26वें स्थान पर छलांग लगायी और इस तरह उन्होंने लारा (911), केविन पीटरसन (909), हाशिम अमला (900), शिवनारायण चंद्रपॉल (901) और माइकल क्लार्क (900) को पीछे छोड़ा.

कोहली अब हमवतन और आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ फेम सुनील गावस्कर के करीब पहुंच गये हैं जिनके 1979 में इंग्लैंड के खिलाफ द ओवल टेस्ट के बाद 916 अंक हुए थे. भारतीय कप्तान के पास अब जून में अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट या अगस्त-सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में और अंक जुटाने का मौका होगा.

जोहानिसबर्ग टेस्ट से रैंकिंग में सुधार करने वाले अन्य बल्लेबाजों में अमला, डीन एल्गर और अजिंक्य रहाणे शामिल हैं. अमला एक पायदान के फायदे से सातवें, एल्गर दो पायदान के लाभ से 12वें और रहाणे पांच स्थान की छलांग से 18वें स्थान पर हैं.

वहीं जिनके रैंकिंग स्थान में गिरावट आयी है, उनमें फाफ डु प्लेसिस 14वें (दो पायदान नीचे), लोकेश राहुल 20वें (दो पायदान नीचे), क्विंटन डि कॉक 27वें (सात पायदान नीचे) और ऐडन मार्कराम 48वें (10 पायदान नीचे) शामिल हैं.

टेस्ट गेंदबाजों की आईसीसी खिलाड़ी रैंकिंग के शीर्ष पांच स्थानों में कोई बदलाव नहीं हुआ है जिसमें जेम्स एंडरसन शीर्ष पर काबिज हैं, जिनके बाद कागिसो रबाडा, रविंद्र जडेजा, जोश हेजलवुड और रविचंद्रन अश्विन मौजूद हैं.

शीर्ष 20 में जिन गेंदबाजों की रैंकंग में सुधार हुआ है, उसमें मोर्ने मोर्कल और मोहम्मद शमी शामिल हैं. मोर्कल दो पायदान के फायदे से नौंवे और शमी दो पायदान के लाभ से करियर के सर्वश्रेष्ठ 15वें स्थान पर पहुंच गये हैं.

भुवनेश्वर कुमार, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमरा की भारतीय तिकड़ी ने भी सुधार किया है. भुवनेश्वर अपने करियर में पहली बार शीर्ष 20 में पहुंचे, वह दो पायदान के फायदे से 20वें स्थान पर हैं. इशांत तीन पायदान के लाभ से अब 26वें स्थान पर जबकि बुमरा 36 पायदान के सुधार से करियर के सर्वश्रेष्ठ 46वें स्थान पर पहुंचे हैं.

भुवनेश्वर और शमी ने ऑल राउंडर सूची में भी अपनी रैंकिंग में सुधार किया है, जिसमें बांग्लादेश के साकिब अल हसन की बादशाहत जारी है.

1
Back to top button