सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, पोंटिंग सहित क्रिकेट जगत ने की टीम इंडिया के प्रदर्शन की सराहना

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पोंटिंग भी भारतीय बल्लेबाजों से काफी प्रभावित दिखे।

नयी दिल्ली: मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर, बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) अध्यक्ष सौरव गांगुली और रिकी पोंटिंग की सहित क्रिकेट जगत के दिग्गजों ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में खेले गये तीसरे टेस्ट मैच के आखिरी दिन धैर्य और जज्बा दिखाकर मैच ड्रा करने पर भारतीय टीम की जमकर प्रशंसा की। ऋषभ पंत (97) और चेतेश्वर पुजारा (77) के पवेलियन लौटने के बाद भारतीय टीम मुश्किल में फंस गयी थी लेकिन हनुमा विहारी (161 गेंद में नाबाद 23 रन) और रविचंद्रन अश्विन (128 गेंद में नाबाद 39 रन) ने पांचवें दिन तीसरे सत्र में विकेट नहीं गिरने दिया और आस्ट्रेलिया को जीत से वंचित किया।

दोनों की छठे विकेट की 62 रन अटूट साझेदारी 42 ओवर से ज्यादा देर तक चली, जिससे जीत के लिए 407 रन का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने पांच विकेट पर 334 रन बनाकर मैच ड्रा कराया। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाने वाले तेंदुलकर ने ट्वीट किया, ‘‘ भारतीय टीम पर काफी गर्व है। ऋषभ पंत, चेतेश्वर पुजारा, रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी ने अपनी भूमिका शानदार तरीके से निभाई। किसी को अनुमान है कि ड्रेसिंग रूप का मनोबल कितना ऊंचा होगा? ’’ पूर्व भारतीय कप्तान गांगुली ने इस मौके पर टेस्ट क्रिकेट के लिए जरूरी मानसिकता और कौशल पर जोर दिया।

उन्होंने ट्वीट कर टीम की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘उम्मीद है कि अब हम सब समझेंगे कि क्रिकेट टीम में पुजारा, पंत और अश्विन क्यों जरूरी है। टेस्ट क्रिकेट में बेहतरीन गेंदबाजी के खिलाफ तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी करते समय हमेशा शॉट नहीं खेलना होता है। लगभग 400 विकेट आसानी से नहीं मिलते। भारत ने शानदार संघर्ष किया। अब श्रृंखला जीतने का समय है।’’

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पोंटिंग भी भारतीय बल्लेबाजों से काफी प्रभावित दिखे। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ आज पूरे दिन भारत के संघर्ष और दृढ़ संकल्प का लुत्फ उठाया। पंत और पुजारा ने इसकी शुरूआत की और फिर विहारी और अश्विन ने दिन के अधिकांश समय नियंत्रण में रह कर ऑस्ट्रेलिया का सामना किया, जो बहुत प्रभावशाली था। अब ब्रिसबेन का इंतजार कर रहा हूं।’’

विहारी और अश्विन की जोड़ी ने जिस तरह से बल्लेबाजी की उसने राहुल द्रविड की याद दिला दी, जो सोमवार को अपना 48वां जन्मदिन मना रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी ) ने भारतीय टीम के ‘असाधारण’ प्रयास के लिए बधाई देते हुए लिखा, ‘‘राहुल द्रविड़ के लिये जन्मदिन का उपयुक्त उपहार। भारत ने आज असाधारण जज्बा, संघर्ष और धैर्य का प्रदर्शन किया।’’ भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय टीम के प्रदर्शन को ‘अविश्वसनीय’ करार दिया।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ टीम पर काफी गर्व महसूस हो रहा है, पंत ने दिखाया कि अलग तरह से देखे जाने की क्यों जरूरत है। विहारी, पुजारा और अश्विन ने अविश्वसनीय जज्बा दिखाया।’’ भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज और घरेलू दिग्गज वसीम जाफर ने भी चौथी पारी में चोट से जूझने के बाद भी भारतीय बल्लेबाजों के हौसले की तारीफ की। उन्होंने ट्वीट पर लिखा, ‘‘ चोट, उपहास, दुर्व्यवहार और ‘बायो-बबल’ की थकान का सामना कर रही आधी ताकत वाली भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के लिए अपने घर में हराना मुश्किल हो रहा है। इस शानदार प्रयास के लिए कोई प्रशंसा कम होगी। नहीं है। आप बेहतरीन टीम है इसका लुत्फ उठाइये।’’

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने टीम के प्रयास की सराहना करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ जरूरत के समय खिलाड़ियों और टीम ने हौसला दिखाया। पांचवें दिन शानदार संघर्ष दिखाने के लिए भारतीय टीम पर गर्व है। पंत, विहारी, पुजारा और अश्विन ने शानदार किया। ’’ इस तीसरे टेस्ट में टीम से बाहर रहे भारतीय सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने भी साथी खिलाड़ियों की तारीफ की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘कभी हार नहीं माननी चाहिए। कभी भी किसी चुनौती से पीछे नहीं हटना चाहिए। टीम ने शानदार हौसला और धैर्य दिखाया।’’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button