क्रिकेटखेल

दोस्त की पत्नी से प्यार कर बैठा था ये क्रिकेटर, जानिए क्या हुआ था उसके बाद

नई दिल्ली: क्रिकेटर मुरली विजय एक बार फिर पिता बन गए हैं. मुरली विजय ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की है. मुरली विजय ने सोशल मीडिया पर फोटो अपलोड कर लोगों को जानकारी दी है.

तस्वीर को शेयर करते हुए मुरली विजय ने लिखा, ‘दो रॉकस्टार!! पहला दूसरे का परिचय इस दुनिया से करवाते हुए. बहुत अच्छी फीलींग.

‘ बता दें, मुरली विजय तीसरी बार पिता बने हैं. उनका एक लड़का और एक लड़की है. तीसरी बार मुरली विजय की पत्नी निकिता ने बेटे को जन्म दिया है.

मुरली विजय ने अपने ही दोस्त दिनेश कार्तिक की पत्नी से शादी की है. निकिता दिनेश कार्तिक की बचपन की दोस्त थीं और दोनों ने 2007 में शादी की थी.

जिसके बाद निकिता और मुरली विजय ने एक दूसरे को पसंद किया. काफी उथल-पुथल के बाद दोनों की शादी हुई. आइए जानते हैं मुरली विजय की लव स्टोरी, जो काफी कॉन्ट्रोवर्शियल रही है.

IPL-5 में हुई मुरली विजय और निकिता की पहली मुलाकात

तमिलनाडु के स्टार विकेटकीपर दिनेश कार्तिक और टीम इंडिया के ओपनर मुरली विजय एक वक्त पर बेहद अच्छे दोस्त हुआ करते थे. दोनों ने साथ ही फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेला.

आईपीएल में भी कुछ समय तक ये खिलाड़ी साथ खेले. लेकिन इसके बाद ऐसा कुछ हुआ कि दोनों की दोस्ती टूट गई.

इस दोस्ती के टूटने की वजह कथित तौर पर मुरली विजय की चीटिंग जो उन्होंने कार्तिक की वाइफ के साथ अफेयर करके अपने क्रिकेटर दोस्त के साथ की थी.

साल 2012 में आईपीएल-5 के दौरान कार्तिक और निकिता साथ थे. इसी वक्त मुरली विजय की पहचान दिनेश कार्तिक की वाइफ से हुई.

तलाक के बाद मुरली विजय से की शादी

रिपोर्ट्स की मानें तो निकिता का अफेयर गुपचुप तरीके से मुरली विजय से हो गया. फिर दोनों एक-दूसरे से मिलने भी लगे.

दिनेश को जैसे ही अपनी वाइफ और मुरली विजय के अफेयर का पता चला, उन्होंने आनन-फानन में तलाक दे दिया. तलाक के वक्त निकिता प्रेग्नेंट थीं. तलाक होते ही निकिता ने मुरली विजय से शादी कर ली.

दिनेश कार्तिक ने की दिपिका पल्लिकल से शादी

सके बाद उनके जीवन में इंटरनेश्नल स्क्वैश प्लेयर दीपिका पल्लीकल की एंट्री हुई. दिनेश कार्तिक और दीपिका की मुलाकात 2013 में हुई थी.

दीपिका ने दिनेश कार्तिक को इस बुरे दौर में काफी सपोर्ट किया. कार्तिक ने दीपिका से लगभग दो साल तक चले अफेयर के बाद अगस्त 2015 में शादी की.

Summary
Review Date
Reviewed Item
मुरली विजय
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *