IND vs NZ: मुंबई वनडे के पहले MS धोनी ने यूं दिलाई वर्ल्‍डकप 2011 के उस ऐतिहासिक लम्‍हे की याद

नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने 2 अप्रैल 2011 को मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम में नुवान कुलसेकरा की गेंद पर ‘बड़ा’ छक्‍का जड़ते हुए इतिहास रचा था. माही के इस छक्‍के की बदौलत टीम इंडिया ने 28 वर्ष के इंतजार के बाद फिर से वर्ल्‍डकप चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था.

भारत ने वर्ल्‍डकप के फाइनल में श्रीलंका को हराया था और धोनी ने 49वें ओवर में कुलसेकरा को छक्‍का जड़ते हुए शानदार अंदाज में मैच का समापन किया था.

इस जीत के साथ धोनी ऐसे पहले कप्‍तान बने जिन्‍होंने अपने नेतृत्‍व में टीम इंडिया को सभी प्रमुख आईसीसी ट्रॉफी में जीत दिलाई.

उनकी कप्‍तानी में टीम इंडिया ने 2007 में टी20 वर्ल्‍डकप, 2011 में वर्ल्‍डकप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी में खिताबी जीत हासिल की.

वैसे भी टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान की पहचान ऐसे मैच फिनिशर के रूप में है जो मुश्किल समय में विकेट पर डटकर टीम को जीत तक पहुंचाता है.

ऐसे समय टीम इंडिया न्‍यूजीलैंड के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलने जा रही, बीसीसीआई ने प्रैक्टिस सेशन का एक वीडियो अपलोड किया है जिसमें धोनी क्रीज से आगे निकलकर बेहतरीन छक्‍का लगाते हुए दिख रहे हैं.

इस छक्‍के ने इसी वानखेड़े स्‍टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ वर्ल्‍डकप 2011 में धोनी के लगाए उस छक्‍के की याद ताजा करा दी. बीसीसीआई ने इस वीडियो का कैप्‍शन दिया है, ‘जब एमएस धोनी वानखेड़े स्‍टेडियम में बड़ा शॉट लगाते है तो यह हमें वर्ष 2011 के मशहूर छक्‍के की याद ताजा कर देता है.

Back to top button