दिहाड़ी मजदूर ने भरा 40 लाख का आईटी रिटर्न, जब पुलिस ने की जांच तो सामने आई ये सच्‍चाई

मजदूर द्वारा फाइल रिटर्न में उसने अपने पास 40 लाख रुपये की संपत्ति होने की बात कही थी.

दिहाड़ी का काम करने वाले एक शख्स ने आईटी रिटर्न फाइल करके आयकर विभाग के अधिकारियों को भी चौंका दिया. मजदूर द्वारा फाइल रिटर्न में उसके पास 40 लाख रुपये की संपत्ति होने का जिक्र किया गया है.<>

मामला बेंगलुरू का है. इस रिटर्न को देखने के बाद विभाग ने मजदूर रचप्पा रांगा को अपनी संपत्ति का ब्योरा देने के लिए दफ्तर बुलाया. बाद में इसकी सूचना पुलिस को भी दी गई.
पुलिस और आयकर विभाग के अधिकारियों की पूछताछ में आरोपी ने इतनी संपत्ति होने के पीछे के राज का खुलासा किया. उसने पूछताछ में बताया कि वह मुख्य रूप से मादक पदार्थों की तस्करी के काम से जुड़ा है.<>

आसपास के लोगों को उसपर शक न हो इसके लिए ही वह खुदको दिहाड़ी मजदूर बताता था. पुलिस ने आरोपी के इस खुलासे के बाद उसके पास से 26 किलो गांजा और पांच लाख रुपये नकद भी बरामद किया है.<>

पुलिस जांच में पता चला है कि आरोपी युवक वर्ष 2013 के बाद से ही मादक पदार्थों की तस्करी से जुड़ा हुआ था. वह इस काम में युवाओं की मदद लेता था और सालाना करोड़ों रुपये कमाता था. आरोपी ने कनकपुरा रोड पर एक विला भी किराये पर लिया था. जिसके लिए वह हर महीने 40 हजार रुपये किराया देता था. उसने बीते कुछ वर्षों में अपने गांव में कई प्रॉपर्टी भी खरीदी है<>

आईटी रिटर्न फाइल करने के बाद आरोपी ने एक वकील से खुदको बचाने के लिए सलाह भी ली थी. वकील ने आरोपी को बताया कि वह खुदको क्लास वन के कैंट्रैक्टर के तौर पर रजिस्टर कराने की सलाह दी थी.<>

advt
Back to top button