सारकेगुड़ा मार्ग पर सीआरपीएफ ने बरामद किया आईईडी बम

बीजापुर।

दो दिन पूर्व बासागुड़ा थाना क्षेत्र के सारकेगुड़ा मार्ग पर सीआरपीएफ 168 वीं बटालियन के जवानों ने अब तक के सबसे बड़े बारूदी सुरंग को बरामद कर नक्सलियों के नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया है। बताया जा रहा है कि बरामद आईईडी तकरीबन 30 किलो वजनी है और यह जवानों से भरी एक पूरी बस के परखच्‍चे उड़ाने की क्षमता रखता है।

जवानों की मुस्तैदी के चलते चुनाव से पूर्व नक्सलियों द्वारा पोलिंग पार्टी और सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के लिए रचे गए षणयंत्र पर पानी फिर गया है। बरामद बम को घटना स्थल पर ही ब्लास्ट कर निष्क्रिय कर दिया गया है।

सीआरपीएफ 168 बटालियन के नवपदस्थ सेकेण्ड कमांड अधिकारी नक्सल ऑपरेशन शैलेन्द्र कुमार ने बताया कि दो दिन पहले जवानो की टीम रोड ओपनिंग के लिए निकली थी। जवान जब बासागुड़ा और सारकेगुड़ा के बीच पहुंचे थे तभी जवानों के साथ चल रहे स्नीफर डॉग की मदद से नक्सलियों द्वारा बिछाए गए बारूदी सुरंग का पता चला। जिसके बाद जब उस जगह की खुदाई की गई तो वहां से एक बारूद से भरा बड़ा कंटेनर बरामद किया गया जिसमें वायर जोड़कर जंगल की ओर ले जाया गया था।

शैलेन्द्र कुमार का कहना है कि बारूदी सुरंग से बरामद बम का वजन तकरीबन 30 किलो के आसपास है। इसके ब्लास्ट होने से जानमाल का बड़ा नुकसान हो सकता था। स्नीफर डॉग और जवानों की मुस्तैदी के चलते एक बड़े नक्सली हमले को विफल कर दिया गया है।

Back to top button