उत्तरी 24 परगना के जगदल में क्रूड बम से हमला, एक बच्चा समेत 3 लोग घायल

बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह के घर से ज्यादा दूर नहीं घटना स्थल

कोलकाता:पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना के जगदल में भारतीय जनता पार्टी के सांसद अर्जुन सिंह के घर से कुछ ही दुरी पर क्रूड बम से हमला में एक बच्चे समेत 3 लोग घायल हुए हैं. बीजेपी इस हमले की शिकायत चुनाव आयोग से करेगी.

उत्तरी 24 परगना जिले के जगदल इलाके में बुधवार रात को 18 नंबर गली में यह घटना घटी जिसमें 3 लोग घायल हुए हैं और यह स्थान बैरकपुर से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह से घर से ज्यादा दूर नहीं है.

बम फेंकने की घटना पर बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि करीब 15 स्थानों पर बम फेंके गए और पुलिस द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरों को तीन लोगों और उनके सहयोगियों द्वारा तोड़ दिया गया. इस बीच पुलिस अधिकारी एसीपी एपी चौधरी ने एएनआई से कहा कि इस हमले में एक बच्चे सहित 3 लोग घायल हुए हैं.

टीएमसी ‘हिंसा की राजनीति’ का पर्यायः विजयवर्गीय बीजेपी सांसद के घर के पास बम फेंकने की घटना पर बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि टीएमसी ‘हिंसा की राजनीति’ का पर्याय है. आचार संहिता के लागू होने के बाद भी गुंडे वहां बमबारी और गोलियां बरसा रहे हैं.

चुनाव आयोग को इसे एक चेतावनी के रूप में लेना चाहिए, अन्यथा हमें संदेह है कि मतदान शांतिपूर्ण तरीके से हो पाएगा.’ पुलिस पर बरसे बीजेपी सांसद यह बताया गया है कि कुछ अज्ञात लोगों ने 17 नंबर की गली की ओर बम फेंके लेकिन ये बम भाटापारा नगर पालिका के 18 नंबर वार्ड में गिरे.

बमबारी की यह घटना शाम को शुरू हुई. बमबारी की घटना के बाद स्थानीय लोगों में भय पैदा हो गया. जगदल पुलिस मौके पर पहुंच गई है, लेकिन स्थानीय लोगों ने पुलिस के सामने विरोध प्रदर्शन किया. यहां तक ​​की एक बम कथित तौर पर पुलिस के सामने ही गिरा.

इस घटना के बाद बैरकपुर से बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह मौके पर आए, बाद में उन्हें कथित रूप से निष्क्रियता के लिए पुलिस को कड़ी चेतावनी देते हुए देखा गया. उन्हें पुलिस को मौके से हटने के लिए कहते हुए भी देखा गया. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि बमबारी के पीछे कौन लोग थे?

बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह ने कहा, ‘हम पिछले 10 से 12 दिनों से पुलिस को सूचित कर रहे हैं, लेकिन पुलिस ने कोई कदम नहीं उठाया है. हमने चुनाव आयोग को भी बताया था और इस दौरान फिर से बमबारी की घटना हो गई. इस हमले में एक बच्चे समेत 3 लोग घायल हुए हैं. वास्तव में पुलिस ने कोई कदम नहीं उठाया है ऐसा वे सत्ताधारी दल के निर्देशों पर कर रहे हैं.

अर्जुन सिंह ने यह भी चेतावनी दी कि अगर पुलिस इसके खिलाफ कदम नहीं उठाती है तो खेल बहुत खतरनाक होगा और तृणमूल कांग्रेस और उनके गुंडे खत्म हो जाएंगे. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि डर का माहौल बनाया जा रहा है, ताकि जनता अपना वोट न डाल सके.

जबकि जगदल विधानसभा क्षेत्र में टीएमसी उम्मीदवार सोमनाथ श्याम ने कहा, ‘जैसा मुझे पता चला मैं यहां आया क्योंकि यह एक राजनीतिक विवाद नहीं है. हमारे पास विपक्षी दलों के साथ कोई दुश्मनी नहीं है. हम अभी भी संशय में हैं कि बमबारी कैसे और क्यों हुई. हमने पुलिस प्रशासन को सूचित किया है और बिना किसी राजनीतिक दबाव के कार्रवाई करने को कहा है.

बीजेपी कार्यकर्ता पर पीटने का आरोप इस बीच बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी ने बुधवार को पूर्वी मिदनापुर जिले के एक पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया, जिसमें आरोप लगाया गया कि उनके एक समर्थक को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पीटा.

शुभेंदु अधिकारी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं के खिलाफ मरीशदा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई, जिसमें दावा किया गया कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी समर्थक बुद्धदेव मन्ना पर हमला किया था. बीजेपी कार्यकर्ता पर हमला कथित रूप से उत्तर कांठी विधानसभा क्षेत्र में हुआ.

शुभेंदु अधकारी ने पुलिस थाने के बाहर मीडिया से कहा, ‘जब वह एक रैली का नेतृत्व कर रहे थे तब मन्ना पर हमला किया गया. इस घटना को अंजाम देने वाले दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए.’ कई बीजेपी कार्यकर्ता थाने के बाहर एकत्र हो गए. बीजेपी नेता ने कहा कि जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, वे मौके से नहीं हटेंगे.

यह मामला तब सामने आया जब इससे एक दिन पहले पुरुलिया जिले में बीजेपी की रथ यात्रा का एक हिस्सा कुछ अज्ञात बदमाशों ने तोड़ दिया था. जबकि बीजेपी ने आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ है, सत्तारूढ़ दल ने आरोप को बेबुनियाद बताया.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button