छत्तीसगढ़

एसईसीएल स्थापना दिवस पर सांस्कृतिक संध्या सम्पन्न

जाॅलीमुखर्जी एवं इशिता विश्वकर्मा के गानों ने लोगों को गुनगुनाने पर मजबूर किया

रायपुर: एसईसीएल स्थापना दिवस पर एसईसीएल वसंत विहार स्थित खेेल मैदान में दिनांक 25.11.2019 को अध्यक्ष सहप्रबंध निदेशक ए.पी.पण्डा के मुख्य आतिथ्य, निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आर.एस. झा, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी.शर्मा, निदेशकतकनीकी (संचालन) आर.के. निगम, निदेशकतकनीकी (योजना/परियोजना) एम.के. प्रसाद,

पूर्वनिदेशक (कार्मिक) के.के. श्रीवास्तव, आर.एस. सिंह, श्रद्धा महिलामण्डल अध्यक्षाश्रीमतीपुष्पितापण्डा, उपाध्यक्षा- सुमन झा,मतीसंगीता शर्मा, पिंकीप्रसाद, एसईसीएल संचालन समिति, एसईसीएल कल्याण बोर्ड, एसईसीएल सुरक्षा समिति के सदस्यों, विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, प्रबुद्धजनों की उपस्थिति में रंगारंग सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया।

जिसमें प्रसिद्ध पाश्र्व गायक जाॅली मुखर्जी एवं जी सारेगामा 2019 विजेता इशिता विश्वकर्मा ने नए पुराने मन मोहक गीत सुना एव हीं प्रतिष्ठितहास्य कला कार सुरेश अलबेला ने अपने चुटकुलों से दर्शकों को गुदगुदाया।

कार्यक्रम का प्रारंभ गणेश वंदना से हुआ उपरांत कार्यक्रम की अगली कड़ी में जीसारेगामा 2019 विजेता इशिता ने विविध नए-पुराने मनमोहक गीत गाए जिसे दर्शकों ने अत्यंत सराहा। इशिता ने श्रेया घोषाल का गाया क्लासिकल सांग ’’मेरे ढोलना सुन………’’ प्रस्तुत कर दर्शकों की खूबवा हवा ही लूटी। वहीं प्रसिद्ध पाश्र्वगायक जाॅली मुखर्जी ने विभिन्न फिल्मों में गाए अपने स्वयं के गानों के साथ रफी, किशोर, मुकेश, हेमंत कुमार के गाने गाए।

जाॅली मुखर्जी ने फिल्म दयावान, राज, चांदनी, राजू बन गया जेन्टलमेन, आईना, साहेबा, संगीतआदि के गाने गाए।कार्यक्रम में प्रसिद्ध हास्य कलाकार सुरेश अलबेला ने अपने विशिष्ट अंदाज में दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया।खचाखच भरे हेली पेड ग्राउण्ड में दर्शकों ने देर रात तक इस कार्य क्रम का भरपूर लुफ्त उठाया।

एसईसीएल स्थापना दिवस पर सांस्कृतिक संध्या सम्पन्न

Tags
Back to top button