छत्तीसगढ़

भुवाजी फार्मस प्रा.लिमि.कुड़कई (पेण्ड्रा) को जारी कस्टम मिलिंग कार्य अनुमति निरस्त

खरीफ विपणन वर्ष 2020-21

संवाददाता :- सुमित जालान

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही : खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के अधीन जारी छ0ग0 कस्टम मिलिंग चावल उपार्जन आदेश 2016 की कण्डिका 9 में प्रदत्त शक्तियों के तहत फर्म भुवाजी फार्मस प्रा. लिमि. कुड़कई (पेण्ड्रा) को एतद द्वारा तत्काल प्रभाव से खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 हेतु काली सूची में दर्ज कर, कस्टम मिलिंग कार्य से प्रतिबंधित करते हुये, उसे जारी अनुमति को निरस्त किया गया है।

फर्म के संचालक द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में मिल के पंजीयन एवं अनुमति उपरांत कार्यालय जिला विपणन अधिकारी में अनुबंध निष्पादित नहीं किया जाना तथा बैंक गाॅरंटी जमा नहीं किया जाकर कस्टम मिलिंग कार्य नहीं किया जाना छ0ग0 कस्टम मिलिंग चावल उपार्जन आदेश 2016 की कण्डिका 4 (2), (3), 12 एवं कस्टम मिलिंग नीति 2020-21 की कण्डिका 6.7 का स्पष्ट उल्लंघन है।

चावल उपार्जन आदेश 2016

उक्त कारणों से अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के अधीन जारी छ0ग0 कस्टम मिलिंग चावल उपार्जन आदेश 2016 की कण्डिका 9 में प्रदत्त शक्तियों के तहत उक्त फर्म भुवाजी फामर््स प्रा. लिमि. कुड़कई (पेण्ड्रा) को एतद द्वारा तत्काल प्रभाव से खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 हेतु काली सूची में दर्ज कर, कस्टम मिलिंग कार्य से प्रतिबंधित करते हुये, उसे जारी अनुमति को निरस्त किया जाता है।

खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग हेतु फर्म में भुवाजी फार्मस प्रा. लिमि. कुड़कई (पेण्ड्रा) द्वारा की गई आनलाईन आवेदन दिनांक 06 दिसम्बर 2020 के आधार पर कस्टम मिलिंग नीति 2020-21 के अधीन दिनांक 18 दिसम्बर 2020 के द्वारा उनका पंजीयन (MA407294) कर कार्यालयीन पत्र क्रमांक 500 दिनांक 22 दिसम्बर 2020 के तहत 4800 मे. टन धान की मिलिंग हेतु अनुमति ( MA407294001) दी गई थी।

कस्टम मिलिंग नीति 2020-21

कस्टम मिलिंग नीति 2020-21 की कण्डिका 6.7 के तहत अनुमति जारी किये जाने के पश्चात उसी दिन मिलिंग हेतु उन्हें जिला विपणन अधिकारी के साथ अनुमति की पूरी मात्रा का अनुबंध एक ही बार में निष्पादित किया जाना था, लेकिन उनके द्वारा अनुबंध निष्पादित नहीं किया गया है जो कि कस्टम मिलिंग नीति के प्रावधानों का स्पष्ट उल्लंधन है। फर्म को कार्यालयीन पत्र क्रमांक 551/खाद्य/धा.उपा./2020 गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही दिनाँक 08 जनवरी 2021 के द्वारा कारण बताओं नोटिश जारी किया गया।

उक्त नोटिश के जवाब में फर्म के संचालक ने अपने पत्र दिनांक 11 जनवरी 2021 के द्वारा बैंक गॅारंटी, नहीं बन पाने की वजह से अनुबंध नहीं किया जाना तथा बैंक गाॅरंटी के अभाव में एग्रीमेन्ट कर धान उठाने में असमर्थ होना बताया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button