छत्तीसगढ़

महिला सिपाही का सिर काटकर नदी में फेका, लक्षणों के आधार पर हुई पहचान

जाँच जारी है जल्द आरोपी पकड़ में आएगा

राजनांदगाँव : राजनांदगाँव के अंबागढ चौकी में पदस्थ महिला आरक्षक आरती कुंजाम बीते 21 अगस्त से ग़ायब होने की खबर से परिजन काफी परेशान थे. लगातार खोजबीन की जा रही थी. अंबागढ चौकी में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की गई थी।

इधर बगनई नदी पुल जहाँ पर एक महिला का शव मिला है, वह अंबागढ चौकी से करीब 37 किलोमीटर दूर है। परिजन शव मिलने की जानकारी पर शंका होने पर तस्दीक़ के लिए पहुँचे थे, जहाँ उन्होने शव को महिला आरक्षक आरती कुंजाम के रुप में पहचाना।

बीते दिन बगनई नदी के पुल के पास मिले महिला के शव की पहचान हो गई है। महिला का शव नग्न अवस्था में मिला था और शव के हाथ पाँव और सर नही थे। अंबागढ चौकी में पदस्थ महिला आरक्षक आरती कुंजाम के परिजनों ने महिला के बरामद शव को देखकर लक्षणों के आधार पर पहचान करते हुए दावा किया है कि शव उनकी पुत्री आरती कुंजाम का है।

अंबागढ चौकी में पदस्थ महिला आरक्षक आरती कुंजाम अकेले निवास करती थी और बीते 21 अगस्त से ग़ायब थी। अंबागढ चौकी में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट 25 अगस्त को दर्ज की गई थी।

अधिकारी ने बताया कि “पहली क़वायद तो पहचान थी, परिजनों ने शिनाख्त कर ली है, हम महिला आरक्षक के मोबाईल समेत सारी जानकारी इकट्ठा कर रहे हैं, महिला के शव की पहचान सुनिश्चित कराने पृथक से डीएनए भी कराया जाएगा, जाँच जारी है जल्द आरोपी पकड़ में आएगा”

Tags
Back to top button