चक्रवाती तूफान: दंतेवाड़ा में बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत ,25 से ज्यादा मवेशियों की मौत

चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ के चलते बस्तर में बारिश:गरज-चमक के साथ जमकर बरसात; दंतेवाड़ा में बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत ,25 से ज्यादा मवेशियों की मौत, फूट-फूटकर रोए किसान

बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान गुलाब का असर छत्तीसगढ़ के बस्तर इलाके में दिखा है। बस्तर के दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा जिले में बिजली की गड़गड़ाहट के साथ तेज बारिश हो रही है। वहीं, दंतेवाड़ा में बिजली गिरने से 25 से ज्यादा मवेशियों की मौत हो गई। इतने बड़े नुकसान पर किसान-चरवाहे फूट-फूटकर रोने लगे।

जानकारी के मुताबिक, दंतेवाड़ा जिले के गदापाल गांव में सुबह किसान अपने मवेशियों को चराने के लिए गए थे। सभी किसान रोज की तरह पहाड़ी इलाकों में मवेशियों को चरा रहे थे कि तेज बारिश शुरू हो गई। किसान किसी तरह से इधर-उधर जाकर छुप गए पर मवेशी चरते रहे। इसी बीच अचानक बिजली गिरी और मौके पर ही मवेशियों की मौत हो गई। पानी गिरने के कारण किसान तुरंत तो मौके पर नहीं पहुंच पाए, लेकिन जैसे ही पानी थोड़ा कम हुआ, सभी मौके पर गए। तब तक 25 से ज्यादा मवेशियों की जान चली गई थी। किसानों ने बताया कि उनका जीवनयापन करने के लिए उनके गाय-बैल बहुत बड़ा सहारा थे।

कमजोर हो रहा गुलाब
सोमवार को मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ कमजोर होकर उत्तर आंध्र प्रदेश और आसपास तथा दक्षिण ओडिशा में रात 2.30 बजे से 6 घंटे में 6 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ा है। विभाग के मुताबिक अब तूफान का प्रेशर कमजोर हो गया है, जो घटकर 6 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंच गया है। पहले माना जा रहा था ये 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ेगा। मौसम विभाग के अनुसार अगले 12 घंटे के अंदर इस तूफान के और कमजोर होने की भी संभावना है।

रेड अलर्ट जारी हुआ था
मौसम विभाग ने रविवार को ही चक्रवात गुलाब को लेकर बस्तर संभाग के लिए रेड अलर्ट जारी किया था। मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया था 27 सितंबर की सुबह गुलाब चक्रवात के कमजोर होकर बस्तर जिले में प्रवेश करने की संभावना बन रही है। रात तक बीजापुर जिले के पार विदर्भ की ओर चला जाएगा। इसके प्रभाव से 40 किमी प्रति घंटे तक की तेज हवा चल सकती है। उन्होंने बताया था कि बीजापुर, दंतेवाड़ा और बस्तर में भारी बारिश की संभावना है। कोंडागांव और कांकेर में भी भारी बरसात होगी। मौसम विभाग ने राज्य एवं आपदा प्रबंधन विभाग को तूफान और उसके अनुमानित प्रभाव की जानकारी दे दी थी।

बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत
वहीं प्रदेश के बलरामपुर में रविवार शाम को बिजली गिरने से एक बड़ा हादसा हो गया। बिजली गिरने की वजह से एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 10-10 साल के दो बच्चे भी शामिल थे। इस घटना में 2 लोग झुलसे भी हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा उस दौरान हुआ, जब सभी खेत में काम कर रहे थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button