शादी समारोह में सिलेंडर ब्लास्ट ने मातम में बदलीं खुशियां

शादी समारोह के दौरान हुए एक धमाके ने एक ही झटके में सारी खुशियां मातम में बदल दीं. दरअसल, शहर के चांद चितार रोड़ नंदनगर स्थित कुमावत भवन धर्मशाला में शुक्रवार की शाम एक शादी समारोह में खाना बनाते समय एक गैस सिलेंडर फट गया था

शादी समारोह के दौरान हुए एक धमाके ने एक ही झटके में सारी खुशियां मातम में बदल दीं. दरअसल, शहर के चांद चितार रोड़ नंदनगर स्थित कुमावत भवन धर्मशाला में शुक्रवार की शाम एक शादी समारोह में खाना बनाते समय एक गैस सिलेंडर फट गया था. जिससे पूरा भवन क्षतिग्रस्त हो गया था. हादसे के कारण भवन में मौजूद लगभग 20 से अधिक लोग घायल हो गए और तीन लोगों की मौत हो गई. मृतकों में दो पुरुष और एक महिला शामिल हैं. ताजा जानकारी के मुताबिक अभी भी मलबे में 4 महिलाओं के दबे होने की आशंका जताई जा रही है. इस वजह से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि मृतकों की संख्या बढ़ भी सकती है. इसके अलावा मलबे में कुछ गैस सिलेंडर भी दबे होने की आशंका व्यक्त की गई है. मौके पर एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम के अलावा कलेक्टर गौरव गोयल और ग्रामीण एसपी पहुंच चुके हैं.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

काफी तेज था धमाका, आसपास के घरों की टूटी खिड़कियां
जानकारी के मुताबिक शुक्रवार शाम हुई इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही नगर परिषद की दमकल सहित पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत कार्य शुरू कर दिया गया था. वहीं दूसरी ओर हादसे की सूचना पूरे शहर में आग की तरह फैल गई. घायलों को भवन के मलबे से निकालकर राजकीय अमृतकौर चिकित्सालय लाकर भर्ती कराया गया. जहां से गंभीर घायलों को रेफर कर दिया गया. बड़ी संख्या में शहर की भीड़ मौके पर तथा एकेएच में एकत्रित हो गई थी. देर रात तक मौके पर राहत कार्य जारी था. हादसे के बाद शादी समारोह की खुशियां मातम में बदल गईं. धमाका इतना तेज था कि आसपास के घरों की खिड़कियां भी टूट गईं.

पूरा भवन हुआ क्षतिग्रस्त, कई घायल
जानकारी के अनुसार नन्दनगर निवासी हेमन्त पाटनेचा के घर लड़के का विवाह था. कुमावत भवन में शादी समारोह के लिए खाना बनाया जा रहा था. इसी दौरान शाम करीब 5 बजकर 58 मिनट पर अचानक एक सिलेंडर फट गया. जिसके कारण पूरा क्षेत्र दहल उठा. धमाके के कारण पूरा भवन क्षतिग्रस्त हो गया. जिससे भवन में मौजूद लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. जानकारी मिलते ही उपखंड अधिकारी पीयूष समारिया, पुलिस उपअधीक्षक सीएस सोढ़ा, सिटी थानाधिकारी यशवंतसिंह यादव अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और राहत कार्य की व्यवस्थाओं को संभाला.

घायलों को तुरंत पहुंचाया गया अस्पताल
दमकलकर्मियों ने पुलिस एवं आमजन के सहयोग से घायलों को भवन से बाहर निकाला. जिसके बाद सभी को उपचार के लिए एकेएच लाकर भर्ती कराया गया. जिनमें से 6 लोगों की हालत गंभीर होने के कारण उच्च चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया गया. वहीं तीन लोगों को जांच के बाद मृत घोषित कर दिया गया. फिलहाल खबर लिखे जाने तक मौके पर बचाव एवं राहत कार्य जारी था.

href=”https://www.clipper28.com/hi/%e0%a4%85%e0%a4%96%e0%a4%a8%e0%a5%82%e0%a4%b0-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-ied-%e0%a4%ac%e0%a5%8d%e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%9f-3-%e0%a4%9c%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a5%8b%e0%a4%82/”>

गंभीर घायलों को बड़े अस्पतालों में किया रेफर
हादसे में घायल हुए लोगों में हलवाई का काम करने वालों सहित शादी समारोह में शिरकत करने आए मेहमान भी शामिल थे. हादसे में पीपाड़ निवासी बसंत कुमार और हाउसिंग बोर्ड निवासी हितेश भाटी की मौत हो गई. इसके अलावा भंवरलाल, चांदमल, सुगनी, शिवप्रकाश, इन्द्रादेवी, रेखा, कोमल, गोविन्द, आरती, वंदना, तमन्ना, अन्नू, आशा, दीपिका, राजू, कमल, गजेन्द्र, मांगी, संजय, ओमप्रकाश और अमित आदि लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. जिनमें से आशा, गजेन्द्र, मांगी, संजय, ओमप्रकाश और अमित को उच्च चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया गया है.

new jindal advt tree advt
Back to top button