अफगानिस्तान में भारत बनाएगा डैम, पाकिस्तान दबाव में

काबुलः भारत ने काबुल नदी बेसिन पर डैम बनाने में अफगानिस्तान सरकार की मदद करने का निर्णय लिया है। भारत ने पिछले हफ्ते एक बैठक में अफगान सरकार को काबुल के पास शहतूत डैम बनाने में मदद पर सहमति जताई है। इस परियोजना को लेकर पाकिस्तान में सुगबुगाहट शुरू हो गई है। उसका कहना है कि इससे उसके यहां इन नदियों के जल प्रवाह में कमी आएगी। पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के कुछ क्षेत्रों में भारत की फंडिंग वाली परियोजनाओं का विरोध किया है।

भारत के इस कदम से पाकिस्तान नाराज हो गया है। पाकिस्तान का कहना है कि यदि भारत काबुल के पास शहतूत डैम बनाएगा तो इससे नदियों के जल प्रवाह में कमी आएगी। दरअसल, काबुल नदी हिंदूकुश पर्वत के संगलाख क्षेत्र से निकलती है और काबुल, सुरबी और जलालाबाद होते हुए पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा चली जाती है। चहर असियाब जिले में काबुल नदी की एक सहायक नदी पर शहतूत डैम बनाने का भारत का प्रस्ताव है, लेकिन पाकिस्तान इस प्रस्ताव का विरोध कर रहा है।

भारत के डैम बनाने के फैसले के बाद नदियों के जल बंटवारे को लेकर पाकिस्तान अफगानिस्तान पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है। वह काबुल और इसकी सहायक नदियों के जल बंटवारे के लिए द्विपक्षीय संधि पर हस्ताक्षर करने के लिए कह चुका है। हालांकि, अफगानिस्तान सरकार का इस पर सकारात्मक रुख नहीं है। शहतूत डैम बनाने पर करीब 30 करोड़ डॉलर यानि तकरीबन 21 अरब रुपए से ज्यादा का खर्च आएगा ।

Tags
Back to top button