छत्तीसगढ़

दन्तेवाड़ा : शिक्षा के साथ खेल को बढ़ावा देने सरकार की अनोखी पहल

आदिवासी क्षेत्र के आश्रमों में ढाई करोड़ की खेल एवं दैनिक आवश्कता की वस्तुएं की वितरित

दन्तेवाड़ा,12 दिसम्बर 2020 : जिला दन्तेवाड़ा में नक्सल क्षेत्र से प्रभावित होते हुए यंहा के आदिवासियों ने अपने बच्चों को किसी भी क्षेत्र आगे बढ़ने से अछूता नहीं रखा। सुदूर अंचल के बच्चें पढ़ने-लिखने में भी पिछे नही हैं। यहां के बच्चों ने यह साबित कर दिया है। जिला प्रशासन ने इनकी पढ़ने की लगन और मेहनत को सराहा। साथ ही बच्चों को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित भी किया। आदिवासी क्षेत्र के बच्चों के उज्जवल भविष्य को देखते हुए प्रशासन ने नई पहल की शुरूआत की।

बच्चों की आगे बढ़ने की इस लगन को देखकर सुदूर अंचल के आश्रम/छात्रावासों में एलुमिनियम गंज, कढ़ाई ,एलइडी बल्ब, सीलिंग पंखा, वेटिंग चेयर स्अील, अलमीरा फुल साइज, एक्जिकेटिव टेबल, एक्जिकेटिव चेयर, एवं खेल सामग्री छात्रावास आश्रम में प्रदाय किए गए। साथ ही बच्चों को अनेक सुविधाएं भी दी जा रही है, जिससे बच्चों को पढ़ने-लिखने में परेशानियों का सामना न करना पड़े।

वर्ष 2019-20 में जिला खनिज न्यास निधि मद के अंतर्गत जिले के सुदूर अंचलों में संचालित विभागीय आश्रम छात्रावासों हेतु आवश्यक सामग्री प्रदाय कार्य विभिन्न सामग्री दिए जाने 2 करोड़ 19 लाख 83 हजार की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई। प्राप्त स्वीकृति के आधार पर जिले के सुदूर अंचलों में संचालित आश्रम छात्रावासों में निवासरत छात्र छात्राओं हेतु उक्त सामग्री उपलब्ध कराई गई ताकि छात्र छात्राओं को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े।

जिले में संचालित 130 विभागीय आश्रम/छात्रावासों तथा विशिष्ट संस्थाओं हेतु खेल सामग्री प्रदाय किए जाने राशि 20 लाख 63 हजार 5 सौ 66 रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त के आधार पर जिले में संचालित 130 आश्रम/छात्रावासों तथा विशिष्ट संस्थाओं में निवासरत 7605 छात्र तथा 5575 छात्राएं कुल 13180 छात्र छात्राओं को उनके शारीरिक स्वास्थ्य एवं मनोरंजन कार्य हेतु खेल सामग्री प्रदान किया गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button