डेटा लीक-पेपर लीक, व्यवस्था के गलत हाथों में चले जाने का नतीजा : अखिलेश

लखनऊ : फेसबुक डेटा लीक और फिर सीबीएसई के 10वीं और 12वीं के पेपर लीक मामले को लेकर विपक्षी दलों ने सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अपना लिया है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इन सब मामलों को सरकार और व्यवस्था के गलत हाथों में चले जाने का परिणाम करार दिया है।

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश ने ट्वीट कर कहा, ‘चुनाव की तारीख़, संवेदनशील सूचनाएं, डेटा और लगातार लीक होते विभिन्न परीक्षाओं के पेपर्स दरअसल सरकार और व्यवस्था के गलत हाथों में चले जाने का परिणाम है। दोबारा इम्तिहान देकर दूसरों की गलती की सजा देश के बच्चे और युवा क्यों भुगतें? और इसकी क्या गारंटी कि पेपर फिर से लीक नहीं होगा।’

चुनाव की तारीख़, संवेदनशील सूचनाएं व डेटा और लगातार लीक होते विभिन्न परीक्षाओं के पेपर्स दरअसल सरकार व व्यवस्था के गलत हाथों में चले जाने का परिणाम है. दुबारा इम्तिहान देकर दूसरों की गलती की सज़ा देश के बच्चे व युवा क्यों भुगतें और इसकी क्या गारंटी कि पेपर फिर से लीक नहीं होगा.

गौरतलब है कि सीबीएसई बोर्ड के 10वीं के गणित और 12वीं के अर्थशास्त्र का पेपर लीक होने और फिर से परीक्षा कराए जाने को लेकर स्टूडेंट्स और पैरंट्स में आक्रोश है। वहीं पुलिस ने दोषियों पर कार्रवाई शुरू कर दी है।

पुलिस को शक है कि पेपर लीक के पीछे दिल्ली के कोचिंग सेंटरों का हाथ हो सकता है। इस मामले के मास्टरमाइंड बताए जा रहे विद्या कोचिंग सेंटर के मालिक विक्की को हिरासत में लिया गया है। क्राइम ब्रांच ने सीबीएसई से जानकारी भी मांगी है।

advt
Back to top button