दिल्ली पुलिस के डीसीपी बुरी तरह घायल, पत्थरबाजी के दौरान आई चोट

नई दिल्ली: अपनी फोर्स के साथ नार्थ ईस्ट जिले के दयालपुर थाना इलाके के चांद बाग में डयूटी पर मौजूद, नागरिकता कानून को लेकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा में घायल दिल्ली पुलिस के डीसीपी बुरी तरह घायल हुए हैं.

10 पुलिसकर्मी मैक्स अस्पताल में भर्ती

दिल्ली पुलिस के डीसीपी शाहदरा को पत्थरबाजी के दौरान चोट आई है. उन्हें मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. हिंसा में अब तक 1 पुलिसकर्मी की मौत हो गई है और डीसीपी-एसीपी समेत 10 पुलिसकर्मी मैक्स अस्पताल में भर्ती हैं

इस पथराव में डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा को पत्थर लगे जिसके बाद उन्हें दूसरी सरकारी गाड़ी से मैक्स अस्पताल ले जाया गया. ऐसा बताया जा रहा है कि डीसीपी की न्यूरो सर्जरी हो रही है. उनकी स्थित गंभीर बनी हुई है. ऐसी जानकारी भी अस्पताल सूत्रों से मिली है कि उनके ब्रेन में क्लोटिंग हो गई है.

पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी

उसी वक्त मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स ने अपने वायरलैस सेट से पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दी, ‘डीसीपी की गाड़ी में चांद बाग मजार के पास आग लगा दी गई है.’ जॉइंट सीपी ईस्टर्न रेंज आलोक कुमार के मुताबिक सोमवार को हुई हिंसा में करीब 50 से 60 पुलिस कर्मी घायल है. जिनमें डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा भी हैं. उनका अस्पताल में ट्रीटमेंट चल रहा है उन्हें ज्यादा चोट लगी है.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि इस हिंसा में अब तक एक पुलिसकर्मी समेत 4 लोग मारे गए हैं. दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने दिल्ली के सभी जिलों के डीसीपी को सख्त आदेश दिया है की हालत कंट्रोल में रखे, पथराव आगजनी न हो.

इसके अलावा दिल्ली की सभी फोर्स को अलर्ट पर रखा गया है. सभी धार्मिक स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के आदेश दिए गए हैं. दिल्ली पुलिस ने अपनी फोर्स को उपद्रवियों से सख्ती से निपटने के आदेश जारी किए गए हैं.

स्पेशल सेल साइबर टीम की नजर

पुलिस ने लोगों को सोशल मीडिया पर आ रहे वीडियो से बचने की भी सलाह दी गई है. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर स्पेशल सेल साइबर टीम नजर बनाए हुए है. पुलिस का कहना है कि हालत कंट्रोल में करने की कोशिश जा रही है. उत्तर-पूर्व जिले में हिंसा के बाद जाफ़राबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जोहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार बंद हैं.

उत्तर पूर्व और पूर्वी दिल्‍ली के कई इलाकों में भड़की इस हिंसा के बीच प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगा दी. गोकुलपुरी में पत्‍थरबाजी में हेड कांस्‍टेबल की मौत हो गई. दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक एसीपी के रीडर रतन लाल (हेड कॉन्टेबल) की मौत हो गई.

इसके बाद भजनपुरा के एक पेट्रोल पंप के नजदीक एक कार में आग लगाई जिसके बाद पेट्रोल पंप भी आग की चपेट में आ गया. मौके पर जब आग बुझाने के लिए दमकल की गाडियां पहुंची तो प्रदर्शनकारियों ने उनमें भी तोड़फोड़ कर दी.

Tags
Back to top button