प्रेस फोटोग्राफर के बेटे पर प्राण घातक हमला, हमलावरों को किया गया गिरफ्तार

हमलावरों पर गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध

बिलासपुर: बीते शाम को नवभारत प्रेस के कैमरा मेन गोपी डे के पुत्र पर कुछ लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया। हिसाब से बुरी तरह घायल हुए शुभम डे को सिम्स में भर्ती कर दिया गया है। जहां उसका उपचार चल रहा है।

इस हमले का कोई व्यक्तिगत कारण नहीं है, बल्कि यह हमला इसलिए हुआ है कि पीड़ित बच्चे का पिता गोपी डे नवभारत प्रेस में प्रेस फोटोग्राफर है और दिन भर घूम घूम कर अपनी ड्यूटी किया करता है। इसलिए उससे कोरोना का संक्रमण फैलाने की मूर्खता पूर्ण आशंका जताते हुए मोहल्ले के बदमाश और आपराधिक प्रवित्ति के लोगो ने गोपी डे के पुत्र पर प्राण घातक हमला कर दिया।

सरकण्डा पुलिस ने हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है। और उन पर गैर जमानती धाराओं के तहत अपराध भी पंजीबद्ध कर लिया है।

पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करें राज्य सरकार – भरत मंगवानी
पत्रकार कोरोना महामारी के दौर में अपनी और अपनी परिवार की चिंता छोड़ कर निष्पक्ष पत्रकारिता करता है पर पत्रकारों के ऊपर ही धमकी और हमले की वारदातें हो रही है जो कि चिंताजनक है। अपराध जगत के लोगो मे 2 ही लोगो का ख़ौफ़ सबसे ज्यादा रहता है एक पुलिस प्रशासन और दूसरा पत्रकार।

बीती रात नवभारत अखबार के कैमरा मेन गोपी डे के पुत्र पर कुछ आपराधिक असामाजिक तत्वों ने जानलेवा हमला किया ऐसी स्थिति में पत्रकार का परिवार में दहशत का माहौल है. अब तो हालात यह है कि पत्रकारों का परिवार भी सुरक्षित नही है।

सरकार को पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए और कल हुए घटना में आरोपियों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए जिससे कि भविष्य में कोई आपराधिक असामाजिक तत्व कोई घटना को अंजाम देने से पहले 1 हजार बार सोचे।

Tags
Back to top button