छत्तीसगढ़

दुकानों पर खुलेआम बिक रहा बारुद से भी घातक सामान, नहीं है पुलिस-प्रशासन को खबर

खेती के सीजन के चलते इन दिनों ज्यादा है डीजल की मांग, पुलिस प्रशासन के सामने होता है लाखों का अवैध कारोबार, कार्रवाई नहीं

पोड़ी उपरोड़ा: पसान थानांतर्गत पुटिपखना , कोड़गार ,पिपरिया ,और लैंगा , सर्किल में पुलिस प्रशासन के नाक के नीचे हर दिन लाखों रुपए के डीजल और पेट्रोल की अवैध रूप से बिक्री की जा रही है। पुटिपखना व कोड़गार में जहाँ सड़कों के किनारे लोगों ने जहां कोल्ड ड्रिंक्स की तरह डीजल-पेट्रोल की दुकानें सजा रखी है, वहीं हर दुकान में 2 से 4 सौ लीटर डीजल का स्टॉक बना रहता है।

अवैध व चोरी से खरीदी गई डीजल की करते है बिक्री

चोरी व अवैध रूप से वाहनों से खरीदी गई पेट्रोल और डीजल को बेचा जाता है , खासकर पसान के पुटिपखना व कोड़गार में डीजल गिरोह मुख्य रूप से सक्रिय होकर कार्य कर रहे

इस समय खेतों की जुताई और बुवाई होने से डीजल की मांग भी अधिक है। अवैध रूप से डीजल और पेट्रोल बेचने का कारोबार करने वालों को पुलिस का भी संरक्षण होने के आरोप लगाए जा रहे हैं।

प्रतिदिन 400 से 500 लीटर डीजल बेच रहा

इन दिनों पुटिपखना व कोड़गार में प्रति दुकानदार प्रतिदिन औसतन 400 से 500 लीटर डीजल बेच रहा है। इन दुकानदारों के यहां हमेशा 4-5 सौ लीटर डीजल का स्टॉक बना रहता है। दुकानदारों द्वारा सालों से इनकी खुलेआम बिक्री की जा रही है। वहीं दूसरी ओर क्षेत्र में अवैध डीजल और पेट्रोल के बिक्री का लाखों का कारोबार है।

असुरक्षित भंडारण, हादसे की आशंका

गौरतलब है कि डीजल और पेट्रोल बेहद ज्वलनशील पदार्थ हैं। इनके सुरक्षित भंडारण और विक्रय के लिए बेहद सख्त गाइडलाइन है। इसके बाद भी यहां पेट्रोल और डीजल की बिक्री करने वाले लोगों द्वारा दुकानों  और घरों में बेहद असुरक्षित तरीके से डीजल और पेट्रोल का भंडारण धड़ल्ले से किया जा रहा है। इस पर कार्रवाई नहीं हो रही है। इतना ही नहीं इनके विक्रय के दौरान भी बेहद लापरवाही बरती जाती है।

कई बार तो हालात यह होते हैं कि बीड़ी और सिगरेट पी रहे लोगों को भी उसी समय डीजल और पेट्रोल दिया जाता है, जबकि इस तरह से पेट्रोल का भंडारण और विक्रय दोनों ही बेहद असुरक्षित हैं।

पहले हो चुका है हादसा

लगातार हो रही डीजल की बिक्री की वजह से डीजल की चोरी की वारदातों में भी बढावा देखने को मिल रहा , सस्ते रेट में खरीद कर अधिक रेट में बिक्री का लाखो का व्यापार किया जा रहा ।।

नहीं होती कार्रवाई

ग्रामीणो की माने तो पुटिपखना व कोड़गार क्षेत्र में लगातार खुलेआम डीजल की बड़ी मात्रा में खरीदी बिक्री की जाती है ..जो कि कई वर्षों से चला आ रहा है ,
पुलिस व प्रशासन को जानकारी है इसके बाद भी लाखों रुपए के इस काले और खतरनाक काम पर रोक नहीं लगाई जाती है। पुलिस के समाने ही अवैध रूप से पेट्रोल और डीजल बेचने का कारोबार चलता रहता है। इसके बाद भी कार्रवाई नहीं की जाती है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button