बचपन से बहरे कुत्ते ने साइन लैंग्वेज सीख बदली अपनी जिंदगी

कुत्तों की देखरेख करने वाली संस्था ने रखा अपने पास

जानवरों में सबसे ज्यादा समझदार कुत्ते को माना जाता है पर क्या आपने कभी सोचा है कि कोई कुत्ता आपके इशारा समझता हो । आपको शायद ये सुनकर यकीन न हो पर ये घटना सच है। दरअसल ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला यह कुत्ता आपसे इशारों ही इशारों में सारी बाते कर सकता है। इवोर नाम का यह कुत्ता बचपन से ही बहरा है जिसकी वजह से उसने साइन लैंग्वेज सीखकर अपनी जिंदगी बदल दी। इवोर ने साइन लैंग्वेज सीखकर ना सिर्फ पालतू जानवरों के लिए बल्कि इंसानों के लिए भी एक मिसाल कायम की है।

10 महीने का इवोर बचपन से ही बहरा है, जिसकी वजह उसे कोई भी अपने घर नहीं ले जाना चाहता। आखिर में उसे कुत्तों की देखरेख करने वाली एक संस्था ने अपने पास रख लिया। इस संस्था ने इवोर को इतना प्यार दिया और देखभाल की, जितना किसी भी जानवर को मिलना चाहिए। उसके कुछ दिनों बाद इवोर को एक परिवार ने गोद ले लिया। इस परिवार ने इवोर को उसकी कमी के साथ स्वीकार कर उससे बहुत प्यार दिया और साथ ही साइन लैंग्वेज में बात करने पर भी ध्यान दिया। कुछ ही दिनों बाद इवोर साइन लैंग्वेज समझने लगा। हालांकि संस्था में इवोर को यहां आओ, बैठे, की साइन लैंग्वेज सिखाई गई थी लेकिन यहां आने के बाद उसने और भी कई चीजें सीख ली।

इतना ही नहीं जब उसे यह संकेत मिलता ही वह बाहर टहलने जा रहा है तो समझकर काफी एक्साइटेड हो जाता था। इस तरह कुछ ही दिनों में इवोर ने कई संकेत सीख लिए थे। एक अंग्रेजी साइट में छपी खबर के मुताबिक संस्था ने बताया कि ना सुनने वाले कुत्ते को घर में रखना काफी मुश्किल होता है। कभी-कभी वो परेशान भी करते हैं लेकिन देखरेख करने से वो समझने लगते हैं। इस तरह इवोर ने इंसानों की तरह अपनी कमी दूर कर खुद की जिंदगी बदल दी।

Back to top button