बिज़नेसराष्ट्रीय

आज ही निपटा लें अपना जरूरी काम, अगले दो दिन बंद रहेंगे बैंक

हड़ताल वाले दिन केवल सरकारी बैंक बंद रहेंगे

नई दिल्ली: बैंक कर्मचारियों की हड़ताल के कारण पिछले दिनों दिसंबर के आखिरी 10 दिन में से बैंक 5 दिन बंद रहे थे. ऐसे में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में कामकाज प्रभावित हुआ था.

दिसंबर के बाद अब जनवरी में भी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है. सार्वजनिक बैंकों के कुछ कर्मचारी 8 और 9 जनवरी को देशव्याही हड़ताल में हिस्सा लेंगे.

बंबई शेयर बाजार को सूचित किया

बैंक कर्मचारियों ने सरकार की कथित कर्मचारी विरोधी नीतियों के विरोध में 10 केंद्रीय श्रमिक संगठनों के आह्वान पर प्रस्तावित हड़ताल के समर्थन में यह निर्णय लिया है.

आईडीबीआई बैंक ने बंबई शेयर बाजार को बताया है कि ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन (AIBEA) और बैंक एम्पलाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया (BEFI) ने 8 और 9 जनवरी के राष्ट्रव्यापी हड़ताल के बारे में इंडियन बैंक एसोसिएशन को सूचित किया है.

कामकाज प्रभावित होने की उम्मीद

बैंक ऑफ बड़ौदा ने बंबई शेयर बाजार को अलग से सूचित किया है कि 8 और 9 जनवरी को एआईबीईए और बीईएफआई के हड़ताल के कारण कुछ क्षेत्रों में बैंकों की शाखाओं एवं कार्यालयों में कामकाज प्रभावित हो सकता है.

10 केंद्रीय श्रमिक संगठनों इंटक, ऐटक, एचएमएस, सीटू, एआईयूटीयूसी, एआईसीसीटीयू, यूटीयूसी, टीयूसीसी, एलपीएफ और सेवा ने भी 8 और 9 जनवरी को आम राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है.

बीएमएस हड़ताल में शामिल नहीं

भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) से सम्बद्ध बैंकिंग यूनियन नेशनल आर्गनाइजेशन आफ बैंक वर्कर्स (एनओबीडब्ल्यू) के उपाध्यक्ष अश्विन राणा ने कहा कि बीएमएस इस हड़ताल में शामिल नहीं है क्योंकि यह राजनैतिक हड़ताल है इसलिए एनओबीडब्ल्यू से संबंधित अन्य यूनियनें हड़ताल में शामिल नहीं होंगी.

इस दौरान आपको कैश की किल्लत हो सकती है. ऐसे में कैश का इंतजाम पहले ही कर लें. आपको बता दें हड़ताल वाले दिन केवल सरकारी बैंक बंद रहेंगे. अगर आपका किसी प्राइवेट बैंक में अकाउंट है तो आप यहां पर आसानी से लेन-देन कर सकते हैं.

Summary
Review Date
Reviewed Item
आज ही निपटा लें अपना जरूरी काम, अगले दो दिन बंद रहेंगे बैंक
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button