छत्तीसगढ़

ऋण माफी और धान का समर्थन मूल्य बढ़ने से किसानों के चेहरे खिले…

मनीष शर्मा

मुंगेली : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा लिए गए निर्णय किसानों के लिए ऋण माफी के फैसले और समर्थन मूल्य बढ़ने से किसानों के चेहरे खिल उठे है। इसी तरह ऋण माफी से कृषक के चेहरे की चिंता अब दूर हो गई है। अब वे नये साल में धूमधाम से मकान बनाने, अपनी आवश्यकता पूर्ति करने में सक्षम होंगे।

ग्राम जमकोर सेवा सहकारी समिति एवं धान खरीदी केंद्र में धान बेचने आये ग्राम दामापुर के 45 वर्षीय किसान नारायण पिता समेलाल ने बताया कि वे 184 कट्टी धान बेचने लाया हूं। उन्होने बताया कि 70 क्विंटल धान तौल हो चुका है। नारायण ने पूछने पर बताया कि उनके पास स्वयं की 5 एकड़ कृषि भूमि है। अगले वर्ष भी इतना ही धान बिक्री किया था। उन्होने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा धान की कीमत 2500 रूपये प्रति क्विंटल बढ़ने से बहुत खुश है।

धान की राशि से घर की माली हालत सुधारने के साथ ही अच्छे कार्य में लगायेगा।इसी तरह धान खरीदी केंद्र झाफल में धान बेचने आये ग्राम सेमरिया के 65 वर्षीय कृषक बाराती ने बताया कि वे 58 कट्टी धान बेचने के लिए लाया हूं। कम बारिश होने के बावजूद ट्यूबवेल से सिंचाई कर भरपूर पैदावार प्राप्त हुई है। स्वयं के नाम पर डेढ़ एकड़ जमीन है। कृषक बाराती ने बताया कि आज झाफल समिति में 23 क्विंटल धान का बिक्री किया हूं।

उन्होने यह भी बताया कि उनके लड़का रोहित ने भी 9 क्विंटल धान का बिक्री किया है। पूछने पर बताया कि धान का समर्थन मूल्य बढ़ने से किसानों के मन में काफी उत्साह है। निश्चित रूप से अधिक लाभ मिलेगा। अपनी माली हालत सुधार सकेंगे। ग्राम सारधा लोरमी के 70 वर्षीय रामप्रसाद ने बताया कि वे अभी 40 क्विंटल धान का बिक्री किया है। और भी धान बेचने के लिए समिति में लाऊंगा। पूछने पर कृषक रामप्रसाद ने बताया कि छत्तीसगढ़ के नवा सरकार हा समर्थन मूल्य 2500 रूपया करे हे जेखर ले किसान मन अब्बड़ खुश है। सरकार के फैसला किसान मन के हित म हे।

01 Jun 2020, 7:43 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

198,317 Total
5,608 Deaths
95,714 Recovered

Back to top button