डोकलाम मुद्दे पर बोली रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि वह नहीं मानती हैं कि चीन के साथ डोकलाम के मुद्दे पर हुआ गतिरोध दोबारा कायम होगा

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि वह नहीं मानती हैं कि चीन के साथ डोकलाम के मुद्दे पर हुआ गतिरोध दोबारा कायम होगा। सीतारमण ने कहा कि भारत ने विभिन्न स्तरों पर चीन से संवाद की प्रक्रिया स्थापित की है

उन्होंने कहा, ‘‘मैं निश्चित तौर पर कहती हूं कि मैं डोकलाम-2 के बारे में नहीं सोच रही। लेकिन विभिन्न स्तरों पर संवाद जारी है।’’ सीतारमण ने कहा, ‘‘आपकी स्थापित प्रक्रियाएं हैं।

एक स्थायी प्रतिनिधि हैं जिन्होंने करीब 20 अलग-अलग बैठकें की हैं। फिर सीमा पर तैनात जवानों की भी बैठक होती है, फ्लैग अफसरों की बैठक होती है। यह सब होता है और हाल में थलसेना प्रमुख ने भी कहा है कि हमने वार्ता बहाल की है।

हम विभिन्न स्तरों पर लगातार संवाद कर रहे हैं।’’ पिछले साल डोकलाम में भारत और चीन की थलसेना के बीच 73 दिनों तक गतिरोध बना रहा था। दोनों देशों के बीच जटिल वार्ता प्रक्रिया के बाद अगस्त में गतिरोध खत्म हुआ था। रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि विभिन्न स्तरों पर संवाद के बावजूद थलसेना को हर पल चौकस रहने की जरूरत है।

advt
Back to top button