अंतर्राष्ट्रीयराष्ट्रीय

कोविड-19 की आर-वैल्यू में दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में आई गिरावट

भारत ने अमेरिका और ब्राजील को पीछे छोड़ दिया

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 52, 972 नए मरीज सामने आए हैं, वहीं 771 मरीजों की मौत हो गई है। एक दिन में सर्वाधिक केस के मामले में भारत ने अमेरिका और ब्राजील को पीछे छोड़ दिया है।

अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 47 हजार से अधिक तो ब्राजील में 25 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस पर पीएम मोदी पर हमला किया है।

हाल ही में आए एक अध्ययन में पता चला है कि कोविड-19 के आर-वैल्यू या रिप्रोडक्टिव वैल्यू में दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में गिरावट आयी है जो दर्शाती है कि देश के तीन बड़े शहरों में इस महामारी का कहर थमने की राह पर है।

हाल ही में सामने आए एक अध्ययन में पता चला है कि कोविड-19 की आर-वैल्यू यानी रि-प्रोडक्टिव वैल्यू में दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में गिरावट आयी है। यह दर्शाती है कि देश के तीन बड़े शहरों में इस महामारी का कहर थमने की राह पर है।

हालांकि, विशेषज्ञों ने इसके साथ चेतावनी भी दी है कि इस स्तर पर आकर अगर लापरवाही की गई तो संक्रमण फिर से बढ़ सकता है। इस बीच, ‘स्टैटिस्टिक्स एंड एप्लिकेशंस’ पत्रिका में प्रकाशित ताजा आर-वैल्यू कुछ इस प्रकार हैं… दिल्ली में यह 0.66, मुंबई में 0.81 और चेन्नई में 0.86 है जो राष्ट्रीय औसत 1.16 से काफी कम है।

आर-वैल्यू का अर्थ है, एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आकर औसतन संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या। फिलिहाल देश में सबसे ज्यादा आर-वैल्यू 1.48 आंध्रप्रदेश की है। दिल्ली के 0.66 आर-वैल्यू को और बेहतर तरीके से समझाते हुए इस अध्ययन का नेतृत्व करने वाली चेन्नई के गणितीय विज्ञान संस्थान में भौतिकी की प्रोफेसर सीताभ्रा सिन्हा ने बताया, इसका अर्थ है कि राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस से संक्रमित किन्हीं 100 लोगों का समूह औसतन 60 लोगों को यह संक्रमण दे सकता है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button