दिल्ली पुलिस ने आईजीआई एयरपोर्ट से एक यात्री को किया गिरफ्तार

यात्री से आरटी-पीसीआर रिपोर्ट मांगी गई तो उसने हंगामा खड़ा कर दिया

नई दिल्ली:दिल्ली के IGI एयरपोर्ट पर मंगलवार को एक यात्री ने हाईवोल्टेज ड्रामा किया. यात्री बैगेज बेल्ट पर खड़ा हो गया और उस पर चलने लगा. इसके बाद एयरलाइंस की शिकायत पर यात्री को गिरफ्तार कर लिया गया.

जानकारी के अनुसार यात्री से आरटी-पीसीआर रिपोर्ट मांगी गई तो उसने हंगामा खड़ा कर दिया. यात्री नाराज हो गया और बैगेज बेल्ट पर जाकर खड़ा हो गया. इसके बाद वो बैगेज बेल्ट पर चलने लगा. इसके बाद एयरलाइंस ने पुलिस से शिकायत की और उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

आरोपी यात्री की पहचान सूरज पांड के रूप में हुई है. वह यूपी का रहने वाला है. उसने एयरपोर्ट के अंदर जमकर हंगामा किया. वहां कामकाज में बाधा डाला और वह चेकिंग बैगेज बेल्ट पर जाकर खड़ा हो गया और चिल्लाने लगा. गिरफ्तारी के बाद उसे अदालत में पेश किया गया. जहां से उसे जमानत मिल गई. .

आईजीआई एयरपोर्ट पुलिस थाने को 21 जून यानी सोमवार को फोन पर आईजीआई एयरपोर्ट के टी3 प्रस्थान पर झगड़े के संबंध में कॉल मिली थी. जिसमें विस्तारा एयरलाइन के ड्यूटी मैनेजर दीपक ढांढा ने शिकायतकर्ता के रूप में एक 36 वर्षीय यात्री सूरज पांडे पुत्र चंद्रकांत पांडे निवासी ग्राम सान बरशा, रुद्रपुर, देवरिया, उप्र पर आरोप लगाया कि आरोपी सूरज पांडेय वहां आए थे.

क्योंकि उन्हें आईजीआई एयरपोर्ट से विस्तारा एयरलाइन काउंटर फ्लाइट यूके 933 से मुंबई जाना था. लेकिन उनके पास आरटीपीसीआर रिपोर्ट नहीं थी. इसलिए उन्हें यात्रा करने से रोक दिया गया और उनकी फ्लाइट छूट गई.

मैनेजर दीपक ढांढा के मुताबिक दोपहर करीब तीन बजे आरोपी यात्री सूरज पांडेय गाली गलौज कर चिल्लाने लगे. वह बैगेज बेल्ट पर चढ़ गए और उस पर चलते रहे. सूरज पांडेय ने एयरलाइन स्टाफ और अन्य यात्रियों के काम में भी बाधा डाली.

दीपक ढांढा के अनुसार उनके स्टाफ ने सीसीटीवी फुटेज की जांच भी की, जिसमें सूरज पांडेय की सारी हरकतें कैद हो गई. शिकायत और सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई. इसके बाद एयरपोर्ट के वरिष्ठ अधिकारियों ने पाया कि आरोपी सूरज पांडे ने धारा 92/93/97 डीपी अधिनियम के तहत अपराध किया है.

इसलिए आरोपी को डीडी नंबर 57ए दिनांक 21.06.2021 के तहत धारा 92/93/97 डीपी अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया गया. सुरक्षाकर्मी उसे खींचकर एयरपोर्ट से बाहर ले गए. गिरफ्तारी के बाद उसका मेडिकल कराया गया. आरोपी अपना निजी व्यवसाय करता है.

पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जमानत मिल पर रिहा कर दिया गया. अब आरोपी सूरज पांडेय को न्यायिक फैसले के लिए फिर से अदालत में पेश होना होगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button