दिल्ली पुलिस ने एक शख्स के कत्ल के इल्जाम में उसकी पत्नी को किया गिरफ्तार

आरोपी प्रेमी फरार बताया जा रहा

नई दिल्ली:दिल्ली पुलिस को निहार के निलोठी एक्सटेंशन में घर के अंदर 35 साल के एक शख्स की लाश पड़ी होने की खबर मिली. ये लाश अनिल साहू नाम के शख्स की थी. पूछताछ में अनिल की पत्नी ने बताया कि कुछ बदमाश आए थे जिन्होंने उसके पति का कत्ल कर दिया.

अनिल साहू की पत्नी भुवनेश्वरी देवी उर्फ पिंकी से लंबी पूछताछ के बाद पुलिस को पिंकी पर शक हुआ. इसके बाद पुलिस ने पिंकी से सख्ती से पूछताछ शुरू की तो पता चला कि दोनों के बीच झारखंड की एक प्रॉपर्टी को लेकर कई दिनों से विवाद चल रहा था. झगड़े के बाद भी दोनों एक साथ एक घर में एक छत के नीचे रहा करते थे.

इंस्पेक्टर जीतेंद्र डागर और सब इंस्पेक्टर अमित नारा की टीम ने इस सनसनीखेज खत्म की गुत्थी को सुलझाने की शुरुआत की. पिंकी से पूछताछ में पता चला कि कत्ल के वक़्त अनिल साहू की पत्नी, उसके दो नाबालिग बच्चे और दो मेड माया तथा ज्योति भी घर में मौजूद थे.

जांच में पुलिस को मृतक की पत्नी के जिस्म पर भी कुछ चोट के निशान नजर आए. पुलिस ने सख्ती से पिंकी से पूछताछ की तो सारी वारदात का खुलासा कर दिया और उसने बताया झारखंड के धनवार में उसकी और उसके पति के बीच प्रॉपर्टी को लेकर विवाद चल रहा था लेकिन सुलह के बाद दोनों साथ रहने लगे थे.

दिल्ली में रहने के दौरान मृतक अनिल साहू के कई महिलाओं से अवैध संबंध हो गए थे जिससे दोनों के बीच आए दिन झगड़े हुआ करते थे.

इतना ही नहीं अनिल साहू की पत्नी पिंकी के रिश्ते भी राज नाम के एक शख्स से जुड़ चुके थे. अनिल साहू ने पिंकी और राज के रिश्तों के बीच में दखलअंदाजी शुरू की तो उसने पति के कत्ल के लिए प्रेमी राज को अपनी साजिश में शामिल कर लिया.

2 और 3 जून की रात को जब अनिल साहू काम से घर वापस लौटा तो प्रिया ने उसको खाने के साथ नींद की गोलियां मिलाकर दी, जिसके बाद उसने रात में राज को घर पर बुला लिया. दोनों ने मिलकर अनिल साहू के हाथ को रस्सियों से बांध दिए. अभी दोनों क़त्ल की तैयारी ही कर रहे थे कि अनिल पर दवाओं का नशा कम होने लगा और वह जागने लगा.

फिर राज और अनिल साहू के बीच जमकर मारपीट हुई. इसी दौरान प्रिया ने अपने पति के हाथ बुरी तरह जकड़ दिए और राज ने धारदार हथियार से अनिल साहू का कत्ल कर दिया. वारदात के बाद राज मौके से फरार हो गया और पिंकी ने पुलिस को एक मनगढ़ंत कहानी बताई ताकि पुलिस को गुमराह किया जा सके. अब पुलिस आरोपी राज की तलाश में छापेमारी कर रही है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button