क्राइम

गर्लफ्रेंड को गोली मारने के बाद दिल्ली पुलिस के एसआई ने रोहतक में ससुर की गोली मारकर की हत्या

यह देख संदीप उनके नजदीक गया और माथे में गोली मारकर वहां से फरार हो गया.

नई दिल्ली: अपनी गर्लफ्रेंड को गोली मारकर फरार होने वाले दिल्ली पुलिस के एसआई संदीप दहिया ने आज सुबह रोहतक में अपने ससुर की गोली मारकर हत्या कर दी. यह हत्या भी दिल्ली पुलिस की सरकारी पिस्टल से की गई है. जहां कल दिल्ली पुलिस अपने ही महकमे के एसआई को तलाश रही थी वहीं, अब हरियाणा पुलिस भी उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है, लेकिन बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर तेज तर्रार कहलाने वाली दिल्ली पुलिस अपने ही महकमे के एसआई को क्यों नहीं तलाश पा रही है?

लगभग 24 घंटे से ज्यादा का समय हो चुका है, लेकिन दिल्ली पुलिस को संदीप दहिया का कुछ अता पता नहीं है. पुलिस के अनुसार आज सुबह लगभग 7:15 बजे संदीप दहिया रोहतक के बैंसी गांव पहुंचा, जहां पर उसने अपने ससुर की गोली मारकर हत्या कर दी. रोहतक पुलिस का कहना है कि संदीप अपनी डस्टर कार में सवार होकर बैंसी गांव पहुंचा था, जिस गली में उसका ससुराल है. उसने पहले वहां पर 3 से 4 चक्कर लगाये. सुबह लगभग 7:00 से 7:15 के बीच में संदीप के ससुर रणवीर सिंह घर के बाहर निकले और साफ सफाई करने लगे. यह देख संदीप उनके नजदीक गया और माथे में गोली मारकर वहां से फरार हो गया.

इस संबंध में रोहतक पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है. वहीं, दिल्ली पुलिस की बात करें तो आउटर नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी गौरव शर्मा ऑन कैमरा इस विषय में कोई बात नहीं कर रहे हैं. उन्होंने फोन पर इतना कहा कि हम संदीप की तलाश कर रहे हैं. अभी उसका कुछ पता नहीं चल पाया है. लेकिन सवाल यही है कि संदीप दहिया जो दिल्ली पुलिस का ही सब इंस्पेक्टर है, उसके पास मोबाइल भी है, इन सब के बावजूद दिल्ली पुलिस अभी तक उसको तलाश नहीं पा रही है. जिसका नतीजा यह रहा कि वो लगातार दूसरे दिन का इस्तेमाल करते हुए सड़कों पर खून बहा रहा है. जिस लड़की को संदीप ने रविवार को गोली मारी थी, उसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है और वह अस्पताल में भर्ती है. दिल्ली पुलिस बस यही कह रही है कि हम संदीप की तलाश कर रहे हैं.

क्यों की ससुर की हत्या?

रोहतक पुलिस का कहना है कि संदीप का अपनी पत्नी से मैट्रिमोनियल डिस्प्यूट चल रहा है. वह कुछ दिन पहले पंचायत लेकर अपने ससुराल आया था. संदीप के दो बच्चे हैं, एक बेटी और एक बेटा. वह बेटे को अपने साथ रखना चाहता था, लेकिन ससुराल पक्ष ने उसकी बात नहीं मानी और बेटा वापस नहीं लौटाया. इसी बात से वह काफी नाराज था. शायद यही मुख्य वजह भी है कि आज सुबह उसने अपने ससुर की गोली मारकर हत्या कर दी.

23 सितंबर को जारी कराई थी 9mm पिस्टल और 10 गोलियां

दिल्ली पुलिस सूत्रों का कहना है कि संदीप दहिया लाहौरी गेट थाने में बतौर एसआई तैनात था. 23 सितंबर को वह जब ड्यूटी पर था तो उसने 9 एमएम की सरकारी पिस्टल और 10 गोलियां इशू करवाई थीं. इसके बाद उसने पेट दर्द की बात कहते हुए 2 दिन का रेस्ट मांगा था. स्वास्थ्य कारणों के चलते उसे 2 दिन का रेस्ट दे दिया गया था. 26 तारीख को संदीप को ड्यूटी पर आना था, लेकिन वह ड्यूटी पर नहीं पहुंचा, क्योंकि उसके नाम पर असला चढ़ा हुआ था, इसलिए लाहौरी गेट थाने में संदीप की एब्सेंट लगा दी गयी.

रविवार दिन में संदीप ने गर्लफ्रेंड को मारी थी गोली

27 तारीख की सुबह संदीप ने शाहदरा में रहने वाली अपनी गर्लफ्रेंड से फोन पर संपर्क किया और मिलने के लिए उसे बुलाया. फिर उसे अपने साथ लॉन्ग ड्राइव की बात कहकर जीटी करनाल रोड, अलीपुर ले गया. कार के अंदर दोनों के बीच कहासुनी हुई, जिसके बाद संदीप ने कार में ही अपनी गर्लफ्रेंड को गोली मार दी और फिर लहूलुहान हालत में उसे सड़क किनारे छोड़कर फरार हो गया. गोली की आवाज और लड़की को सड़क किनारे घायल देखने वाला भी कोई और नहीं बल्कि दिल्ली पुलिस का ही एक एसआई था, जिसने तुरंत ही पीसीआर कॉल की और घायल लड़की को अस्पताल पहुंचाया. अलीपुर थाने में संदीप दहिया के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है, लेकिन वह अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button