बच्चों का बनेगा नीले रंग का ‘बाल आधार’ कार्ड

नई दिल्ली. भारतीय विशिष्ठ पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने कहा कि पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों को बगैर बॉयोमैट्रिक वाला नीले रंग का 'बाल आधार' कार्ड जारी किया जाएगा.

नई दिल्ली. भारतीय विशिष्ठ पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने कहा कि पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों को बगैर बॉयोमैट्रिक वाला नीले रंग का ‘बाल आधार’ कार्ड जारी किया जाएगा.

यूआईडीएआई ने ट्विटर पर यह जानकारी देते हुए कहा कि पांच वर्ष पूर्ण होने पर बॉयोमेट्रिक अपडेट कराना अनिवार्य होगा और यदि सात वर्ष की आयु पूर्ण से होने से पहले ऐसा नहीं किया जायेगा तो आधार कार्ड निलंबित हो जाएगा. इसको लेकर यूआईडीएआई ने एक इंफोग्राफिक जारी किया है जिसमें नीले रंग का आधार कार्ड दर्शाया गया है.

पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों के आधार पंजीयन के लिए माता-पिता में किसी एक का आधार कार्ड लगाना होता है. उनका बॉयोमैट्रिक रिकॉर्ड नहीं किया जाता है और उसका सिर्फ फोटा लिया जाता है. इस तरह के मामले में बच्चे का आधार उसके माता-पिता के आधार से जुड़ा होता है.

जब बच्चा पांच वर्ष का हो जाता है तब उसका बॉयोमैट्रिक सत्यापन पूरा किया जाता है. पंद्रह साल की आयु पूर्ण होने पर भी बॉयोमैट्रिक अपडेट किया जाता है. यदि बच्चे की उम्र पांच वर्ष से अधिक है तो पंजीयन फॉर्म के साथ जन्म प्रमाण पत्र और स्कूल से जारी पहचान पत्र लगाना अनिवार्य है.</>

1
Back to top button