दिल्ली का टैंक रोड जाली सामान बेचने वाला दुनिया का सबसे कुख्यात बाजार : अमेरिका

दूसरे बाजारों को भी जा रही जाली सामान की खेप

वाशिंगटन: दिल्ली के टैंक रोड में थोक कारोबारी बिना किसी डर के कारोबार करते हैं और उन्होंने पिछले कुछ साल के दौरान अपने कारोबार को काफी फैला लिया है. अमेरिका का कहना है कि इस तरह की गतिविधियों से अमेरिकी अर्थव्यवस्था को नुकसान हो रहा है और इससे विदेशी बाजारों में अमेरिकी बौद्धिक संपदा धारकों के अधिकारों को चोट पहुंच रही है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि वैश्विक स्तर पर करीब ढाई प्रतिशत या 500 अरब डॉलर के उत्पाद जाली होते हैं. अमेरिका ने दिल्ली के टैंक रोड को जाली सामान बेचने वाला दुनिया का सबसे कुख्यात बाजार करार दिया है. अमेरिका ने भारत से कहा है कि वह इस बाजार के बारे में कार्रवाई के लिए समुचित कदम उठाए.

अमेरिका की कुख्यात बाजारों की सूची में 33 ऑनलाइन और 25 ऑफलाइन बाजारों की पहचान की गई है. ये बाजार कथित रूप से कॉपीराइट और ट्रेडमार्क का उल्लंघन कर उत्पादों की बिक्री कर रहे हैं. अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि (यूएसटीआर) की कुख्यात बाजारों की 2018 की सूची में भी टैंक रोड शामिल था.

अंशधारकों ने इस बात की पुष्टि की कि यह बाजार अभी भी जाली सामान की बिक्री कर रहा है. इनमें परिधान और जूते-चप्पल आदि शामिल हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि टैंक रोड के थोक कारोबारी जाली सामानों की आपूर्ति अन्य भारतीय बाजारों मसलन गफ्फार मार्केट और अजमल खान रोड को भी करते हैं.

Back to top button