झीरम घाटी के शहीदों के परिजनों को पेंशन देने की मांग – कांग्रेस

रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता तथा मीडिया कोआर्डिनेशन कमेटी सदस्य एम.ए. इकबाल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग की है, कि दिनांक 25 मई 2013 को झीरम घाटी में माओवादी, नक्सलियों द्वारा जो कांग्रेस पार्टी के प्रथम पंक्ति के नेताओं की हत्या की गयी उनके परिजनों को छत्तीसगढ़ की सरकार की ओर से पेंशन देकर सम्मान दिया जाये।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एम. ए. इकबाल ने विज्ञप्ति में आगे कहा है, कि उस समय प्रदेश में भाजपा की सरकार थी और सरकार के भ्रष्टाचार, कमीशनखोरी के विरोध में कांग्रेस ने परिवर्तन यात्रा की थी, जिसमें पार्टी के लगभग सभी बड़े नेता शामिल हुये थे। परंतु झीरम घाटी के उस स्थान पर जहां सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था हटा ली थी, उसी स्थान पर हमला हुआ था।

स्वर्गीय महेन्द्र कर्मा जिन्हे जेड प्लस की सुरक्षा प्राप्त थी, उसे भी उस समय की सरकार ने हटा लिया था और उस निर्धारित स्थान पर नक्सलियों ने घात लगाकर हमला कर कांग्रेसी नेताओं, पुलिस स्टाफ तथा अन्य की निर्दयतापूर्वक हत्या कर शहीद कर दिया था। यह अपूरणीय क्षति कांग्रेस को हमेशा याद रहेगी।

कांग्रेस प्रवक्ता एम. ए. इकबाल ने झीरम घाटी के शहीदों के परिजनों को पेंशन देकर मुख्यमंत्री जी से उन्हे सम्मान देने की मांग की है। नगर निगम व्हाइट हाउस गार्डन में स्व. विद्याचरण शुक्ल की मूर्ति के अनावरण कार्यक्रम के अवसर पर इस संबध का एक अनुरोध पत्र सौंपा गया। इस पत्र के साथ शहीदों के नाम, उनके परिजनों के नाम पते की सूची संलग्न किये गये है।

Back to top button