आठ साल पूरा नहीं करने वाले शिक्षाकर्मियों को संविलियन देने की उठी मांग

अलग अलग गुटों में बंटा शिक्षाकर्मी संघ

आठ साल पूरा नहीं करने वाले शिक्षाकर्मियों को संविलियन देने की उठी मांग

रायपुर : छत्तीसगढ़ में शिक्षाकर्मियों के संविलियन की घोषणा होने और उसका केबिनेट में पारित होने के बाद प्रदेश के लाखो शिक्षाकर्मियों में उत्साह का माहौल है, लेकिन शिक्षाकर्मियों का एक दल सरकार के इस कार्यप्रणाली से खफा है.

राज्य सरकार ने आठ साल पूरा कर चुके शिक्षकों का संविलियन करने का आदेश जारी किया है. ऐसे में जो आठ साल पूरा नहीं कर पायें हैं उनको सरकार के इस निर्णय से नाराजगी है. आठ साल से कम वालों का समर्थन कर रहे शिक्षाकर्मी संघ के एक नेता चन्द्रदेव राय ने सरकार के इस निर्णय पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि प्रदेश सरकार को सभी शिक्षकों को समान रूप से लेना चाहिए थे.

उनका कहना है कि जो शिक्षाकर्मी 7 साल और 364 दिन पूरा कर लिए हैं उनको भी सरकार के इस निर्णय से नारजगी है. राय से कहा कि राज्य सरकार सभी शिक्षकों के साथ समान व्यवहार करते हुए समानुपातिक वेतन दे और सभी को एक जुलाई से सातवे वेतन का लाभ दें.

गौरतलब है कि राज्य सरकार ने प्रदेश में शिक्षाकर्मियों के संविलियन की घोषणा तो कर दी है लेकिन उसमे भी आठ साल पूरा कर चुके शिक्षाकर्मियों को शामिल करने के निर्देश दिए हैं. ऐसे में प्रदेश भर में करीब 48 हजार ऐसे शिक्षाकर्मी भी है जिन्होंने अभी तक आठ साल पूरा नहीं किया है और सरकार के इस निर्णय से उनके नाराजगी भी है.

Back to top button