छत्तीसगढ़

बोधराम कंवर को अनुशासन समिति के अध्यक्ष पद से हटाने की मांग

कोरबा। पूर्व विधायक बोधराम कंवर को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति के अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की गयी है। कांग्रेस के वरिष्ठ कार्यकर्ता प्रतापसिंह कं वर (पड़निया)ने इस सिलसिले में पार्टी हाईकमान राहुल गांधी को पत्र लिखा है। उन्होंने पूर्व विधायक बोधराम कंवर पर पार्टी विरोधी कार्य करते रहने का आरोप लगाया है।

पत्र में लिखा गया है कि बोधराम कंवर कांग्रेस विधायक के पद से इस्तीफा देकर पूर्व में तिवारी कांग्रेस में शामिल हो गये थे। उन्होंने जांजगीर लोकसभा क्षेत्र से तिवारी कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ा था।

1998 में रामपुर विधानसभा क्षेत्र से भुनेश्वर राठिया कांग्रेस प्रत्याशी थे। भूलवश बोधराम कंवर को भी बी फार्म दे दिया गया था। उन्हें बी फार्म प्रस्तुत करने से मना किया गया था। लेकिन वे नहीं माने। निर्वाचन अधिकारी ने दो बी फार्म को आधार बनाकर दोनों नामांकन निरस्त कर दिया था और भाजपा क ो वाक ओव्हर मिल गया था।

शिकायत पत्र में बताया गया है कि गत जिला पंचायत चुनाव में 12 में 07 सदस्य कांग्रेस के चुने गये थे। चुनाव का प्रभार बोधराम कंवर को दिया गया था, जिसमें केवल 03 सदस्यों वाली भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष चुनाव जीत गया था।

हार के बाद प्रदेश कांग्रेस ने बोधराम कंवर को जांच का जिम्मा दिया, लेकिन तीन वर्ष बाद भी जांच रिपोर्ट नहीं दी गयी है। नगर निगम कोरबा के महापौर चुनाव में अपने भाई को शासकीय सेवा से इस्तीफा दिलाकर चुनाव लड़ाया, जिसमें पार्टी को हार का सामना करना पड़ा।

06 Jun 2020, 1:56 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

239,644 Total
6,672 Deaths
114,073 Recovered

Tags
Back to top button