एसीपी संजीव कुमार का डिमोशन, नए आदेश के बाद संजीव कुमार फिलहाल छुट्टी पर

पुलिस हेडक्वॉर्टर से मिली सिफारिश पर उपराज्यपाल ने मुहर लगाई जिसे होम मिनिस्ट्री ने हरी झंडी दे दी

नई दिल्ली: 23 फरवरी से 26 फरवरी 2020 के बीच हुए दिल्ली हिंसा में 53 लोगों की मौत हो गई थी. 13 जुलाई को हाईकोर्ट में दायर दिल्ली पुलिस के हलफनामे के मुताबिक, मारे गए लोगों में 40 मुसलमान और 13 हिंदू थे. दिल्ली नार्थ ईस्ट हिंसा की जांच कोर्ट की दहलीज पर है.

23 फरवरी 2020 को हुए इन दंगों में 581 लोग घायल हुए थे. 24 और 25 फरवरी को नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसा करने वालों ने जमकर उत्पात मचाया था. हिंसा के इन मामलों में कुल 755 एफआईआर दर्ज की गई थीं. इनमें सभी शिकायतें शामिल हैं.

इसी मामले में एसीपी संजीव कुमार को डिमोट कर फिर से इंस्पेक्टर बनाया गया है. पुलिस हेडक्वॉर्टर से मिली सिफारिश पर उपराज्यपाल ने मुहर लगाई जिसे होम मिनिस्ट्री ने हरी झंडी दे दी. संजीव कुमार एसीपी ऑपरेशंस शाहदरा के पद पर कार्यरत हैं. नए आदेश के बाद संजीव कुमार फिलहाल छुट्टी पर चले गए हैं.

फरवरी 2020 में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान करावल नगर के एसएचओ रहे संजीव कुमार पर आरोप है कि शिव विहार इलाके में हुई हिंसा के एक मामले में दाखिल एक चार्जशीट में एक ही शख्स का नाम पीड़ित और आरोपी दोनों में शामिल कर दिया गया था.

दंगों के दौरान शिव विहार के हाजी हाशिम ने अपना घर जलने की पुलिस को शिकायत दी थी. चार्जशीट में हाशिम का नाम पीड़ित और आरोपी दोनों के तौर पर दर्ज कर दिया गया था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button