छतीसगढ़ में डेंगू का कहर, अंबिकापुर में 6 मरीज पॉजीटिव

अंबिकापुर।

छतीसगढ़ में डेंगू का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। दुर्ग-भिलाई में बीमारी ने कई लोगों की जान ले ली, तो प्रदेश के कई शहरों में मरीज इलाज करा रहे हैं। सरगुजा में 6 लोगों में डेंगू के लक्षण पाए गए हैं। अंबिकापुर हॉस्पिटल में 48 लोगों की रैपिड जांज की गई, जिसमें से 6 पीड़ित पाए गए।

प्रभारी डॉक्टर अनिल प्रसाद नें बताया कि जैसे ही प्रदेश में डेंगू की घटनाएं सामने आने लगीं, वैसे ही सरगुजा में भी डेंगू को लेकर हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया था। साथ ही सॉर्स रिडक्शन का काम तेज कर दिया गया है। कहीं भी डेंगू का संदेह होने पर जल्द से जल्द इसका पता लगाने के लिए रैपिड जांच किट की उपलब्धता भी बढ़ा दी गई है।

-सभी मरीजों की हालत ठीक

डॉक्टर ने बताया कि अंबिकापुर के निजी अस्पताल नें 48 लोगों की जांच की थी, जिनमें से 6 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से सिर्फ 2 लोग अंबिकापुर के हैं, वे भी लंबे समय से सरगुजा से बाहर थे। सभी मरीजों की हालत ठीक है और सभी निजी अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।

-अलर्ट पर स्वास्थ्य विभाग

उन्होंने कहा कि डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी जा रही है। डेंगू मच्छर के काटने से फैलता है इसलिए कोशिश की जा रही है कि मच्छरों को समाप्त किया जाए। किसी भी बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के प्लेटलेट्स और डब्ल्यूबीसी में कमी होने पर रैपिड डाइग्नोस्टिक किट से जांच की जा रही है, ताकि समय रहते डेंगू का पता लगाया जा सके और उसे बेहतर इलाज मुहैया कराई जा सके।

Tags
Back to top button