देवरिया बालिका गृह मामले को लेकर रास में हंगामा

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के देवरिया स्थित बालिकागृह में बच्चियों का कथित तौर पर यौन उत्पीड़न किए जाने के मुद्दे पर आज राज्यसभा में विपक्षी आम आदमी पार्टी और समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने हंगामा किया जिसकी वजह से बैठक शुरू होने के करीब 15 मिनट बाद ही दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। हंगामे की वजह से आज उच्च सदन में शून्यकाल नहीं हो पाया।

बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। फिर उन्होंने कहा कि उन्हें सदन का नियत कामकाज रोककर एक मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए नियम 267 के तहत कुछ नोटिस मिले हैं जिन्हें उन्होंने स्वीकार नहीं किया है।

सभापति ने कहा कि वह सदस्यों को लोक महत्व के मुद्दे के तौर पर शून्यकाल में उनके मुद्दे उठाने की अनुमति देंगे। आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने कहा कि उन्होंने देवरिया बालिका गृह के मुद्दे पर चर्चा के लिए नोटिस दिया था। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा अत्यंत गंभीर है। सभापति ने कहा कि उन्होंने सिंह को बोलने की अनुमति नहीं दी है लिहाजा वह बैठ जाएं। उन्होंने सिंह को आगाह भी किया कि वह बुलेटिन में उनका नाम लेंगे।

इसी बीच, समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने भी देवरिया बालिका गृह का मुद्दा उठाया। सभापति ने सदस्यों से कहा कि वह शून्यकाल चलने दें और उसी दौरान लोक महत्व के मुद्दे के तौर पर इस विषय को उठाएं। अपनी बात का असर न होते देख उन्होंने 11 बज कर करीब 15 मिनट पर बैठक को दोपहर बारह बजे तक स्थगित कर दिया।

Back to top button