छात्राओं के धरना प्रदर्शन से हटाई गई पसान प्राचार्या

पसान: शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला पसान में विगत आठ वर्षों से पदस्थ प्राचार्या जे.आर .बेन को आखिर छात्राओं के द्वारा किये धरना प्रदर्शन के कारण शिक्षा विभाग अधिकारियों ने पसान शासकीय कन्या शाला से हटाना पड़ा । विवादास्पद प्राचार्या जे आर बेन के द्वारा स्टॉप के शिक्षक .शिक्षिकाओ . के अधिकारों का लगातार हनन करते हुये अनावश्यक रूप से दो दो तीन तीन महीनों के वेतन काट देना तथा बच्चो , छात्राओ ,को डराना , धमकाना , परीक्षा में फैल कर दूँगी तथा 10 वी के छात्राओ को प्रवेश पत्र नही देने की धमकी देकर अनावश्यक कार्य झाड़ू लगवाना , आंगतुकों को नास्ता दिलवाने का कार्य भी बेन के द्वारा करवाया जाता था ।

, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला

सभी छात्राओ से परीक्षा फीस के रूप में 900 . रुपये लेकर उन्हें किसी भी प्रकार की रशीद नही दी गयी छात्राओ के द्वारा रशीद माँगने पर रशीद नही है करके बात टाल देना तथा अपसब्दो का प्रयोग किया जाता था तथा विगत कई वर्षों से प्राचार्या बेन द्वारा शासकीय आवास को अपने नाम पर आबंटित कर उसमें ताला लगा कोरबा से आना जाना किया करती थी व महीने में टाइम बे टाइम एक दो बार ही स्कूल में आकर अपनी पूरे माह की उपस्थिति दर्ज कर जाती थी इसकी शिकायत बार बार शिक्षा विभाग के अधिकारियों से किया गया पर अधिकारियों के द्वारा कोई ठोस कार्यवाही प्राचार्या के खिलाफ नही होने के कारण उसका हौसला और बुलंद होता गया ।

, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला

गत दिनों शिकायत पर बी. ई .ओ पोड़ी उपरोड़ा अशोक चंद्राकर के द्वारा दिनांक 26/02/2019 को पसान स्कूल में आकर के जाँच किया गया जहाँ हायर सेकंडरी स्कूल कन्या पसान स्टाफ व छात्राओ के द्वारा प्राचार्या बेन के खिलाफ बयान दिया गया जिससे कि दिनांक 27 /2 को अपने खिलाफ बयान पर प्राचार्या बेन भड़क उठी कक्षा सातवीं में पढ़ा रही प्रियंका जायसवाल को जाकर गाली गलौज करते हुये उन पर टूट पड़ी जिससे कि प्रियंका जायसवाल जमीन जा गिरी प और इसके बाद जे आर बेन के द्वारा समस्त छात्राओं को गाली गलौज व अपशब्द बोलते हुए धमकी दी गयी अगर यह बात बाहर किसी को बताई गई तो सबको फेल कर दूँगी व 10 वी की छात्राओं को प्रवेश पत्र नही देने की धमकी दी उक्त धमकी .व बेन के व्यवहार से हताहत स्टाफ तथा छात्राओं ने थाना पसान में जाकर प्राचार्या बेन के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई किंतु कार्यवाही नही होने पर समस्त 200 छात्राओं ने स्कूल के सामने धरना प्रदर्शन पर बैठ गई.

जिससे कि इसकी सूचना मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा बी ई ओ पोड़ी अशोक चंद्राकर को मौके पर भेजा और छात्राओं को समझाने पर छात्राओं ने कहा कि जब तक बेन को शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला पसान से नही हटाया जायेगा तब तो वे धरने से नहीं हटेंगे इस प्रकार से मौके के नजाकत को देखते हुये बी ई ओ के द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी कोरबा से बात की गई जिससे कि जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा कलेक्टर के अनुशंसा पर तत्काल प्रभाव से प्राचार्या जे आर बेन को जिला शिक्षा कार्यालय कोरबा में अटैच किया गया ।

Back to top button