जेल में हनीप्रीत की पहली रात, दाल-सब्जी और 4 रोटी खाकर दरी पर सोई ‘बाबा की बेबी’

कभी दुनिया के सात अजूबों की प्रतिकृतियों के साए में सोने वाली गुरमीत रामरहीम की सबसे बड़ी राजदार हनीप्रीत ने जेल में पहली रात बिताई है. गुरमीत राम रहीम की बेटी कही जाने वाली हनीप्रीत की जेल में पहली रात चार रोटी और दाल सब्जी खाकर गुजरी और उसे दरी पर सोना पड़ा.

जेल में पहली रात को लेकर हनीप्रीत के चेहरे पर कोई उदासी नहीं थी, वह रिलैक्स दिख रही थी. अंडर ट्रायल होने की वजह से उसे जेल की कोई यूनिफॉर्म नहीं दी गई. जेल प्रशासन की तरफ से उसे सोने के लिए एक दरी, तकिया और चादर दी गई.

हनीप्रीत से मिलने जेल में डेरा सच्चा सौदा के कई समर्थक भी पहुंचे थे, जिनसे मिलकर गुरमीत रामरहीम की बेटी खुश नजर आ रही थी. हालांकि डेरा समर्थकों के होने की वजह से जेल प्रशासन को मुश्किलों का सामना करना पड़ा. भारी सुरक्षा व्यवस्था होने के चलते दूसरे अन्य कैदी अपने रिश्तेदारों से मिल नहीं पाए.

इससे पहले हनीप्रीत की पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद पुलिस ने उसे पंचकूला की विशेष अदालत में पेश किया. जहां से कोर्ट ने उसे 10 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का फरमान सुना दिया.

हरियाणा पुलिस की एसआईटी टीम ने शुक्रवार को पहले हनीप्रीत और डेरा की चेयरपर्सन विपश्यना को आमने सामने बैठाकर कई घंटे तक पूछताछ की. उसके बाद हनीप्रीत की पंचकुला की विशेष अदालत में पेश किया गया. जहां पुलिस की तरफ से रिमांड नहीं मांगे जाने पर, कोर्ट ने उसे 10 दिन के लिए जेल भेजने का फरमान सुना दिया.

बता दें कि इससे पहले स्पेशल कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद हनीप्रीत को तीन दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेजा था. जबकि उससे पहले भी वह 6 दिनों से पुलिस रिमांड पर थी. लेकिन पुलिस हनीप्रीत से कुछ खास नहीं उगलवा पाई है. सोमवार को उसकी रिमांड अवधि समाप्त हो गई थी.

Back to top button