25 मई से विनाशयोग, इन राशियों को होगा बड़ा नुकसान

कुछ खास ग्रह और नक्षत्रों के मिलने से जहां सुखद योग बनते हैं तो कई बार कुछ खास ग्रहों और नक्षत्रों के मिलने से कष्टकारी योग भी निर्मित हो जाते हैं।

कुछ खास ग्रह और नक्षत्रों के मिलने से जहां सुखद योग बनते हैं तो कई बार कुछ खास ग्रहों और नक्षत्रों के मिलने से कष्टकारी योग भी निर्मित हो जाते हैं। ज्योतिषशास्त्र में इसे विनाशयोग कहा जाता है।

ऐसा ही एक योग 25 मई से बनने जा रहा है जो कि अमंगलकारी स्थिति निर्मित कर सकता है। इसमें कई सारी प्राकृतिक आपदाएं आ सकती हैं।
ज्योतिषाचों के अनुसार 1 मई से मंगल और केतु मकर राशि में एक साथ हैं। यह दोनों ग्रह 6 नवम्बर तक एक साथ रहेंगे।

मंगल और केतु के साथ होने के चलते अंगारक योग बनाते हैं जो कि अग्नि का योग है। इसके चलते 25 मई से 8 जून तक रोहिणी नक्षत्र में नौतपा में भीषण गर्मी पड़ेगी। इसके साथ ही आंधी, तूफान, के साथ तेज हवा की स्थिति बनी रहेगी।

वहीं बड़ी आगजनी की घटनाएं भी हो सकती हैं। साथ ही वाहन दुर्घटनाएं एवं राजनीतिक परिवर्तन की स्थितियां भी बन सकती हैं। इस अंगारक योग के चलते मिथुन कर्क, सिंह, तुला, धनु, और कुंभ राशि वालों को नुकसान होने की आशंका रहेगी। मेघ, कन्या, मकर राशि वालों के लिए यह समय मिला जुला रहेगा। जबकि वृषभ, वृश्चिक व मीन राशि के लिए समय श्रेष्ठ रहेगा।<>

advt
Back to top button