छत्तीसगढ़

गौठानों को बहुउद्देशीय कार्यस्थल के रूप में विकसित करें-गृह मंत्री

लक्षित बजट के अनुसार कार्य पूर्ण करने के निर्देश,गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने गरियाबंद जिला अधिकारियों की ली समीक्षा बैठक

रायपुर, 05 फरवरी 2021 : गृह और लोक निर्माण मंत्री तथा गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज राजिम रेस्ट हाउस में गरियाबंद जिला अधिकारियों के साथ जिले में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा की। मंत्री साहू ने निर्माण कार्यों को निर्धारित समय सीमा में पूर्ण करने तथा लक्षित बजट के अनुसार कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने आगामी वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट के लिए भी प्रस्ताव बनाने कहा। उन्होंने कहा कि जिले के गौठानों को बहुउद्देश्यीय कार्यस्थल के रूप में विकसित किया जाए। इससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश

बैठक में मंत्री साहू ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए धान फसल के अलावा अन्य फसलों के लिए प्रेरित करने के लिए कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को जिले में क्षतिग्रस्त पुल-पुलियों और सड़कों की जानकारी भेजने को कहा, ताकि इनके मरम्मत लिए तत्काल राशि स्वीकृत की जा सके तथा बड़े निर्माण कार्यों को बजट में शामिल किया जा सके।

मंत्री साहू ने नामांतरण, बटवारा और सीमांकन के प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकरण करने, प्रत्येक ग्राम पंचायतों में खाली जमीन में फलदार वृक्षों का रोपण और खेल मैदान के नाम पर जमीन आरक्षित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने शासकीय उचित मूल्य की दुकानों में समय पर खाद्यान्न सामग्री पहुंचानें, बैंक सखी के माध्यम से किसानों को सुगम भुगतान कराने, आश्रमों-छात्रावासों का नियमित रूप से निरीक्षण करने तथा छात्र-छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराने, भूमि समतलीकरण, मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना के तहत दुर्गम और पहुंच विहीन गांव में शिविर लगाकर इलाज कराने कहा।

मंत्री साहू ने कहा कि पूरक पोषण आहार, रेडी टू ईट की गुणवत्ता पर किसी पर किसी प्रकार की समझौता न हो, इस पर विशेष ध्यान रखते हुए बच्चों में संस्कार व नवाचारी शिक्षा को बढ़ावा दिया जाए। बैठक में जिला पंचायत के अधिकारियों ने नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी और मनरेगा योजना की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में मनरेगा के तहत गरियाबंद राज्य के प्रथम पांच जिलों में शामिल है। यहां प्रतिदिन एक लाख मानव दिवस रोजगार सृजन करने योजना बनाई गई है। बैठक में कलेक्टर निलेश कुमार क्षीरसागर, पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल, जिला पंचायत सीईओ चंद्रकांत वर्मा सहित सभी जिला अधिकारी मौजूद थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button