बिलासपुर के देवी संपद मंडल समिति कर रही आम जन की मदद

हिमांशु

बिलासपुर:- बिलासपुर में इस कोरोना जैसे महामारी के बीच जब किसी ने हाथ नही बढ़ाया तब बिलासपुर के दैवी सम्पद मण्डल युवा सेवा समिति के सदस्यों के द्वारा विगत 10 अप्रैल से आक्सीजन सिलेण्डर की सेवा लगातार की जा रही है समिति द्वारा जरूरत मंद लोगाें तक आक्सीजन पहुँचाने का पूरा जोर प्रयास किया जा रहा है

पिछले 1 माह से लगातार संस्था के द्वारा पीड़ित मरीजों के उपचार के लिए 300 परिवारों से अधिक परिवारों की मदद की जा चुकी है समिति द्वारा आम जनों की पूरी मदद की जा रही है वही बिलासपुर शहर में काफी तारीफ की जा रही है जब हालात काफी बद्दतर थे जब समिति के द्वारा आगे बढ़कर सेवा करने समिति के सदस्यों ने पूरा प्रयास किया जहां लोगो की मदद करने सफल साबित हुए इस मुश्किल को अवसर में बदलकर कार्मशियल फ्लो मीटर तथा आक्सीजन रेगुलेटर में बच्चों की फिडर बाॅटल का इस्तेमाल करते हुए

साकेत तिवारी जाे की सिविल इंजीनियर है सभी साथियाें के सहायता से आक्सीजन फ्लाेमीटर तैयार किया गयव इसका सोशल मिडिया में वीडियों भी समिति द्वारा जारी किया गया वीडियो वायरल हाेने से देश भर से काॅल आने लगे जिनको फ्लाेमीटर बनाने में संस्था के द्वारा आनर्लाइन मदद किया गया जिसमें दिल्ली,नोएडा भोपाल, अहमदाबाद,गुजरात कटनी जैसे शहर शामिल है वही समिति द्वारा 100 से अधिक फ्लोमीटर बनाकर रायपुर बिलासपुर, पेन्ड्रा मुंगेली लोरमी कटघोरा कोरबा, के लोगों काे प्रदान किया गया संस्था द्वारा लोगो के मदद के लिए लगातार फ्लोमीटर बना कर लाेगो के मदद के लिये कार्य रहे है दैवी सम्पद मण्डल युवा सेवा समिति के सदस्यों के द्वारा के लोगों को जानकारी दी गई

तथा उनकी भी सिलेंडर के लिये आक्सीजन फ्लोमीटर बनाने में सहायता की जा रही है संस्था के प्रमुख सदस्य महेश अग्रवाल सुनील अग्रवाल हर्ष द्धिवेदी साकेत तिवारी अमित सिंह राजीव सिंह अब्दुल रहीम राकेश ढीम संकल्प शुक्ला याेगेश पाण्डेय गणेश जाेशी नीतीन द्धिवेदी राजेन्द्र बारिक तथा अन्य सदस्य निरंतर सेवा दे रहे है किसी प्रकार की समस्या होने पर बिलासपुर क्षेत्र में सिलेंडर की आवश्यकता हो ताे 6260591618 पर संपर्क करके मंदिर चाैक जरहाभाठा स्थिति ड्रीम बिल्डर्स के कार्यालय से प्राप्त कर सकते है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button