मनोरंजनराज्यराष्ट्रीय

सीएम नीतीश पर टिप्पणी पर डीजीपी ने याद दिलाई रिया को औकात

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करेगी केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई)

मुंबई: सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच का अधिकार केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को देने के बाद बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि यह सत्य की जीत है. वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर टिप्पणी पर डीजीपी ने रिया चक्रवर्ती को औकात की याद दिला दी.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं. ये अन्याय के विरुद्ध न्याय की जीत है. यह 130 करोड़ लोगों के भावनाओं की जीत है. अब लोगों के अंदर उम्मीद बनी है कि अब सुशांत केस की सच्चाई सामने आएगी. यह पूरे देश के लिए बहुत बड़ी खबर है.

मुंबई पुलिस के आरोपों का जिक्र करते हुए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि हम लोगों पर आरोप लगाए जा रहे थे कि आपने क्यों केस किया. हमको जांच नहीं करने दिया जा रहा था. हमने आईपीएस अफसर को भेजा तो उसे कैदी की तरह रात में क्वारनटीन कर लिया गया. इससे लगा कि कोई न कोई गड़बड़ है.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि नतीजा आएगा और निश्चित आएगा, क्योंकि यह केवल एक परिवार की लड़ाई नहीं है, यह हिंदुस्तान की जनता की लड़ाई है. संजय राउत के बयान पर डीजीपी ने कहा कि किसी राजनीतिक व्यक्ति पर आरोप लगाना उचित नहीं है. पूरे देश को पता चल गया कि बिहार पुलिस कोई गलत नहीं कर रही थी.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि यह बहुत हाई प्रोफाइल केस है. कई लोगों को पोल खुल जाने का डर सता रहा है. ऐसे में सीबीआई की जांच में सबकुछ सच सामने आएगा. वहीं, रिया चक्रवर्ती के बयानबाजी पर डीजीपी ने कहा कि बिहार के सीएम पर कमेंट करने की औकात रिया चक्रवर्ती की नहीं है.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सपोर्ट के कारण ही सुशांत केस में न्याय मिलने की उम्मीद बनी है. मैं इस बात को दोहरा रहा हूं कि रिया चक्रवर्ती की हैसियत नहीं है कि वो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर टिप्पणी करे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button