छत्तीसगढ़

धमतरी : समर्थन मूल्य पर धान खरीदी सफलतापूर्वक सम्पन्न होने पर कलेक्टर मौर्य ने दी बधाई समय सीमा की बैठक में

विभागीय समन्वय से शासकीय योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन पर कलेक्टर ने दिया जोर

धमतरी 02 फरवरी 2021 : जिले के ऐसे सभी भवन, जो ग्राम पंचायत के अधीन आते हैं और पुराने एवं जर्जर हो चुके हैं, उन भवनों  को ढहाने के लिए ग्राम पंचायत से एक प्रस्ताव पारित कराना होगा। सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एक समिति गठित करेंगे, उक्त समिति में अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग आदि के तकनीकी व्यक्ति रहेंगे, जो जर्जर भवनों की जांच कर अपनी रिपोर्ट देंगे। इस आधार पर उन सभी भवनों को ढहाया जाएगा।

कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने आज समय सीमा की बैठक लेकर उक्त निर्देश सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत को दिए। सुबह 11 बजे से कलेक्टोरेट सभाकक्ष में यह बैठक रखी गई थी।

बैठक में कलेक्टर ने जिले में कोरोना टीकाकरण की जानकारी भी ली। इस मौके पर डॉ बी.के.साहू ने बताया कि अब तक 65ः स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लग चुका है। कलेक्टर ने इस मौके पर उप संचालक, पशु चिकित्सा सेवाएं को एवियन इन्फ्लूएंजा (एच 5 एन 1) पर सतत निगाह रखने और आवश्यक एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं।

आज की समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने चालू खरीफ विपणन वर्ष में समर्थन मूल्य पर एक लाख नौ हजार 174 पंजीकृत किसानों से चार लाख 27 हजार मीट्रिक टन धान खरीदी सफलतापूर्वक करने पर इस कार्य में संलग्न सभी विभाग, धान खरीदी के नोडल अधिकारियों को बधाई दी। साथ ही उन्होंने समितियों से धान उठाव की समीक्षा की। बताया गया कि अब तक 48: (दो लाख सात हजार मीट्रिक टन) धान का उठाव मिलर्स ने कर लिया है।

कलेक्टर जन चौपाल

बैठक में कलेक्टर ने मुख्यमंत्री जन चौपाल, कलेक्टर जन चौपाल, समय सीमा, प्रभारी मंत्री कार्यालय तथा उच्च कार्यालय से मिले पत्रों की समीक्षा कर समय सीमा में उन्हें गुणवत्तापूर्वक निराकृत करने के निर्देश दिए। इस मौके पर विभागीय समन्वय से शासन की महत्ती योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन पर भी कलेक्टर ने जोर दिया। बैठक में वन मंडलाधिकारी सतोविषा समाजदार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मयंक चतुर्वेदी, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अन्य अधिकारी उपस्थित रहे तथा स्वान की वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए ब्लॉक स्तरीय अधिकारी बैठक से जुड़े रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button