धमतरी : विभागीय पोर्टल में एमआइएस एंट्री करने पर कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने दिया बल समय सीमा की बैठक में

कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने ऐसे सभी अधिकारियों को अपने विभागीय पोर्टल में एमआईएस एंट्री सुनिश्चित करने के निर्देश दिए

धमतरी 05 अक्टूबर 2021 : कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने ऐसे सभी अधिकारियों को अपने विभागीय पोर्टल में एमआईएस एंट्री सुनिश्चित करने के निर्देश दिए, जिनके यहां विभिन्न योजनाओं के तहत एमआईएस एंट्री की जाती है। इसके अलावा एकीकृत किसान पोर्टल में भी किसानों का पंजीयन, संशोधन, सत्यापन इत्यादि समय सीमा में करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए हैं।

उन्होंने आज सुबह 11 बजे से आहूत समय सीमा की बैठक में खरीफ 2021 के तहत गिरदावरी कार्य की प्रगति की समीक्षा भी की। साथ ही लोक सेवा गारंटी योजना के तहत मिले आवेदनों का समय सीमा में निराकरण के निर्देश देते हुए सभी कार्यालय प्रमुखों से कहा कि लोक सेवा गारंटी के तहत मिले आवेदनों को प्राथमिकता के साथ समय सीमा में निपटाना सुनिश्चित करें।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आहूत बैठक में कलेक्टर ने कहा कि प्रदेश की जनसंख्या में अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों की गिनती की जा रही है। इसके मद्देनजर सभी विभागों में क्वांटिफायबल डेटा के लिए कार्यालय में पदस्थ सभी अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों का पंजीयन सुनिश्चित किया जाए।

कोविड टीकाकरण

कलेक्टर ने इस अवसर पर कोविड टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा करते हुए सेशन साइट में जितने टीके पहुंच रहे, उनका व्यापक प्रचार-प्रसार मैदानी स्तर पर करने के निर्देश दिए, जिससे कि टीका लगाने पहुंच रहे लोगों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो। इस मौके पर ज़िले के हर परिवार से कम से कम एक व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड बन जाने की जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डी.के.तुर्रे ने दी। कलेक्टर ने इस पर सभी छूटे हुए पात्र लोगों का आयुष्मान कार्ड आगामी 30 अक्टूबर तक बनाना सुनिश्चित करने पर बल दिया।

बैठक में समय सीमा की विभिन्न विभागों में लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए इनका गुणवत्तापूर्वक निराकरण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रियंका महोबिया, अपर कलेक्टर श्री दिलीप अग्रवाल, सहित ज़िला स्तरीय अधिकारी और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सहित सभी ब्लॉक स्तरीय अधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़े रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button