धमतरी : कंसल्टिंग फर्म के जरिए कर रहे सेवाओं का निर्यात

अब तक 36 लाख रुपए से अधिक कमा चुके हैं धमतरी के युवा गोपाल चितालिया

अब तक 36 लाख रुपए से अधिक कमा चुके हैं धमतरी के युवा श्री गोपाल चितालिया

ज़िले के युवाओं और उद्यमियों के लिए बने प्रेरणास्त्रोत

धमतरी, 25 सितम्बर 2021: गोपाल चितालिया एक होनहार 24 वर्षीय बी टेक और एमएस पढ़ा लिखा युवक। इनकी सिर्फ इतनी पहचान नहीं है। ये धमतरी शहर के एक ऐसे युवा हैं, जो विश्व पटल में अपनी आईटी के क्षेत्र में कंसलिं्टग फर्म के जरिए सेवा का निर्यात कर रहे हैं। हैदराबाद स्थित इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से बी टेक और एमएस (रिसर्च इन आईटी इन बिलिं्डग साइंस) की पढ़ाई पूरी करने के बाद आईटी सेक्टर में नौकरी करने के बजाय उन्होंने वापस अपने गृह ज़िला धमतरी का रुख किया।

यहां उन्होंने मशीन लर्निंग, डेटा एनालिसिस, स्मार्ट बिलिं्डग्स, एनर्जी एफिशिएंसी, एल्गोरिथमिक ट्रेडिंग, सॉफ्टवेयर डिवेलपमेंट, वेब डिवेलपमेंट सेवाएं देने ’जीएनसी ओवरसीज’ नामक कंसलिं्टग कंपनी बनाई। इसके जरिए सेवाओं का निर्यात करना शुरू किया। इन्हें अभी ज्यादा वक्त भी नहीं हुआ है, लेकिन पिछले लगभग एक साल से शुरू की गई उनकी निर्यात सेवा से उन्हें 36 लाख रूपए से अधिक की आमदनी हुई है। अपने ज्ञान का इस्तेमाल कर और निर्यात की बारीकियों को समझ वे अच्छा खासा कमा रहे हैं।

उन्होंने इस छोटी सी उम्र में यह समझ लिया कि चाहे शहर बड़ा हो या छोटा अगर कुछ बड़ा कर गुजरने की ललक हो तो पूरा आसमान भी काफी नहीं। इसी सोच के साथ शुरुवात हुई उनकी नई जिंदगी की। गोपाल बताते हैं कि मौजूदा वैश्विक बाजार में स्मार्ट ग्रिड्स, इलेक्ट्रिक वाहन, भवनों में एनर्जी एफिशिएंसी की महत्ता के मद्देनजर वे अपने फर्म के ज़रिए इसके लिए सलाह, डिजाइन तैयार और विकसित करने, उनका क्रियान्वयन करने और सहयोग करने का काम कर रहे हैं। उनकी फर्म का उद्देश्य है कि आई टी सेवाओं का ऑपरेशनल कॉस्ट कम करें। उनके नॉर्वे, यूएसए, कनाडा, थाईलैंड, कतर, नीदरलैंड जैसे देशों में क्लाइंट्स हैं। गोपाल अपनी फर्म के जरिए कंसलिं्टग सेवाएं देकर अपने क्लाइंट्स के व्यापार को बढ़ाने में सहयोग कर रहे हैं।

हाल ही में धमतरी में ज़िला व्यापार और उद्योग केंद्र द्वारा निर्यात की संभावनाएं तलाशने और ज़िले के उत्पादकों को प्रोत्साहित करने एक एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव आयोजित किया गया। इस मौके पर इस नौजवान को भी अपने विचार, अनुभव साझा करने बुलाया गया। अपनी सेवा क्षेत्र से जिस तरह उन्होंने यह मुकाम हासिल किया यह कॉन्क्लेव में उपस्थित उद्यमियों के लिए काफी उत्साहजनक रहा। वहीं एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव में मौजूद कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने भी गोपाल की उपलब्धियों को सराहा और कहा कि ज़िले के उद्यमियों तथा नव युवकों के लिए वे किसी प्रेरणा से कम नहीं हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button